DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

-मोहननगर फ्लाईओवर का प्रस्ताव मंत्रलय गया

दूसरे फेज में दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा आ रही मेट्रो के रूट पर फ्लाईओवर बाधा डाल सकता है। पीडब्लूडी के एनएच सेक्शन ने जीटी रोड पर फ्लाईओवर का प्रस्ताव वार्षिक योजना में शामिल कर लिया है। फ्लाईओवर बनने का असर मेट्रो रूट पर पड़ेगा। अफसरों का दावा है कि मेट्रो रूट के बारे में उनसे कोई वार्ता नहीं की गई।


गाजियाबाद में मेट्रो को लेकर विभागीय समन्वय नहीं बन रहा। वैशाली रूट पर निगम और प्राधिकरण के बीच समन्वय की कमी नजर आई। इसके चलते काम करते हुए पानी की लाइन और एचटी लाइन शिफ्टिंग की समस्या हुई। अब दूसरे फेज में भी दिक्कत आनी शुरू हो गई है। प्राधिकरण ने डीपीआर के लिए डीएमआरसी को धन जारी कर दिया है, लेकिन नेशनल हाईवे पर आने वाले रूट के बारे में एनएच  सेक्शन से कोई बातचीत नहीं हुई। एनओसी तक नहीं ली गई।


पीडब्लूडी के एनएच सेक्शन ने जीटी रोड पर फ्लाईओवर का प्रस्ताव भेज दिया है। इसे वित्तिय वर्ष 2010-11 की योजना में शामिल कर लिया गया है। करीब 650 मीटर लंबे और 15 मीटर चौड़े फ्लाईओवर पर 22 करोड खर्च होंगे। यह फ्लाईओवर मार्च 2011 से पहले पूरा हो जाएगा। मेट्रो को इसी रूट से आना है। इस समय बगैर फ्लाईओवर डीपीआर तैयार हो रहा है। ऐसे में बाद में दिक्कत आ सकती है। एक बार फिर समन्वय की कमी के चलते सेकेंड फेज का काम प्रभावित होगा।

जीटी रोड पर मेट्रो लाने के बारे में हमसे कोई बात नहीं की गई। प्राधिकरण ने कोई एनओसी नहीं ली। हमें मेट्रो रूट के बारे में कोई जानकारी नहीं है। मोहननगर पर फ्लाईओवर का प्रस्ताव भेज दिया गया है और जल्द काम शुरू होगा।
रविदत्त कुमार, अधिशासी अभियंता, एनएच सेक्शन, पीडब्लूडी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:-मोहननगर फ्लाईओवर का प्रस्ताव मंत्रलय गया