DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेट बैंकिंग

नेट बैंकिग के माध्यम से ग्राहक अपने कंप्यूटर का इस्तेमाल कर अपने बैंक नेटवर्क और वेबसाइट को एक्सेस कर सकता है। इस बैंकिंग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि कोई भी व्यक्ति घर या ऑफिस से बैंक सर्विस का फायदा उठा सकता है, लेकिन तकनीक के दुरुपयोग के चलते नेट के जालसाज लोगों के अकाउंट को हैक कर उन्हें चपत लगा रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि नेट बैंकिंग के इस्तेमाल में कुछ सावधानियां बरती जाएं।
यूआरएल चेक करें: कई रिपोर्ट यह तसदीक करती हैं कि इस्तेमाल की जाने वाली 50 प्रतिशत वेबसाइट असुरक्षित होती हैं। ऐसे में नेट सर्फर व्यक्ति के लिहाज से यह बेहद जरूरी है कि वह पूरी तफ्तीश के बाद ही साइट खोले। किसी भी साइट के यूआरएल और डोमेन चेक करें और देखें कि यह उसी बैंक के यूआरएल और डोमेन की तरह हो, ऐसे में यह संभावना काफी हद तक प्रबल हो जाती है कि आप सुरक्षित वेबसाइट का इस्तेमाल कर रहे हैं।
अगर आप नेट बैंकिंग सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इसे प्रत्येक तीन दिनों में जांचते रहें।
बाहर न करें इस्तेमाल: नेट बैंकिंग के लिए इंटरनेट कैफे और शेयर्ड कंप्यूटर का इस्तेमाल कम करें और अगर आप कैफे या शेयर्ड कंप्यूटर से इस्तेमाल करते भी हैं, तो अपना पासवर्ड बदल दें। यह सुरक्षित रहेगा।
सिस्टम सीधे बंद न करें : अकसर लोग ब्राउजर बंद कर कंप्यूटर सीधे बंद कर देते हैं जो असुरक्षित है। हमेशा सिस्टम ठीक से लॉग ऑफ करें।
पासवर्ड का करें प्रयोग: अपने पासवर्ड को किसी पेपर पर न लिखें। इसे आसानी से हैक किया जा सकता है। अपनी मशीन में पावर ऑन पासवर्ड डाल दें ताकि आपके अलावा कोई और आपकी मशीन न खोल सके। अपने सिस्टम पर स्क्रीनसेवर पासवर्ड डाल दें ताकि कोई और आपके सिस्टम का प्रयोग न कर सके।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेट बैंकिंग