DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो-तीन साल में नक्सलवाद को खत्म कर देंगे: चिदम्बरम

दो-तीन साल में नक्सलवाद को खत्म कर देंगे: चिदम्बरम

नक्सलवाद को देश का अव्वल दुश्मन करार देते हुए केन्द्रीय गृहमंत्री पी़ चिदम्बरम ने कहा कि सरकार अगले दो-तीन साल में इस बुराई को जड़ से खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है।

पश्चिम बंगाल के लालगढ़ में माओवादी प्रभाव वाले इलाके का दौरा करने के बाद चिदम्बरम ने कहा कि पिछले 10-12 साल में नक्सलवाद से सही तरीके से निपटा नहीं गया] इसी वजह से इस समस्या ने विकराल रूप ले लिया है।

गृहमंत्री ने रविवार की रात यहां से 45 किलोमीटर दूर उपनगरीय इलाके में आयोजित एक जनसभा में कहा कि नक्सलवाद देश का अव्वल दर्जे का दुश्मन है।

उन्होंने कहा कि हम नक्सलवाद को जड़ से खत्म करने के लिए दृढ़ हैं। हम पिछले 10-12 साल तक इस समस्या को सहते रहे, इसलिए अब इसने बड़ा रूप अख्तियार कर लिया है।

चिदम्बरम ने कहा कि केंद्र मजबूती से कायम है, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी भी दृढ़प्रतिज्ञ हैं। चिदम्बरम ने कल ही नक्सलियों को कायर करार दिया था।

उन्होंने बाद में नक्सलवाद और आतंकवाद को एक ही तराजू में तोलने की बात कही।

बजट में रक्षा मद पर भारी आवंटन का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और चीन द्वारा भारत के साथ शत्रु जैसा बर्ताव करने के मद्देनजर ऐसा करना जरूरी हो गया था। वर्ष 2010.11 के लिए भारत का रक्षा बजट 147,344 करोड़ रुपये तय किया गया है।

चिदम्बरम ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों को प्रशिक्षित करके उन्हें भारत में दाखिल कराने की फिराक में है। साथ ही वह मुल्क में हिन्दुओं और मुसलमानों के बीच फूट डालने की कोशिश भी कर रहा है। हम जब भी पाकिस्तान से बात करना चाहते हैं, हमें आतंकवाद पर बातचीत करनी होती है, लेकिन उस मुल्क को यह बात रास नहीं आती।

गृहमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद का केंद्र है और सभी आतंकवादी गतिविधियों, चाहे अफगानिस्तान में हो या अमेरिका में, सभी जगह पाकिस्तान का दखल देखा जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो-तीन साल में नक्सलवाद को खत्म कर देंगे: चिदम्बरम