DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमर से जुड़ी जुड़वां बच्चियों की शल्यक्रिया शुरू

कमर से जुड़ी 18 माह की जुड़वां बच्चियों गीता और सीता की शल्यक्रिया शुरू हो गई है। राष्ट्रीय राजधानी में 27 चिकित्सकों के दल ने सोमवार को यह शल्यक्रिया शुरू की।

शल्यक्रिया बत्रा अस्पताल में सोमवार सुबह शुरू हुई और मध्यरात्रि तक इसके पूरे होने की संभावना है। जुड़वां बच्चियां बिहार से हैं और उनके अभिभावक मजदूर हैं।

बत्रा अस्पताल के चिकित्सक डॉ. संजीव बगाई ने बताया, ''उनके सिर, हाथ और पैर अलग-अलग हैं लेकिन वे दोनों कमर के जरिए एक-दूसरे से जुड़ी हुई हैं और उनमें मल व मूत्र उत्सर्जन के अंग एक ही हैं।''

बगाई ने कहा कि इस चिकित्सा के लिए बत्रा अस्पताल के बाहर के चिकित्सकों की मदद नहीं ली गई है।

उन्होंने कहा, ''सात विभिन्न क्षेत्रों में विशेषज्ञता प्राप्त 27 चिकित्सक अब ऑपरेशन थियेटर में व्यस्त हैं। ऑपरेशन के लिए ले जाने से पहले हम सात दिन से लगातार बच्चियों की जांच कर रहे हैं और हमें उम्मीद है कि यह ऑपरेशन सफल रहेगा।''
उन्होंने बताया कि शल्यक्रिया  15 घंटे तक चलने की संभावना है।

चिकित्सा भाषा में इस तरह से जुड़े जुड़वां बच्चों को 'सियामीज' कहते हैं। यह बहुत दुर्लभ प्रकार के जुड़वां होते हैं और बहुत कम ही शल्यक्रिया की अवस्था तक पहुंच पाते हैं। विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय केंद्रों में हुई शल्यक्रिया के बाद इस तरह के 50 प्रतिशत से कम मामलों में ही दीर्घकालिक सफलता मिल पाती है।

अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने बताया, ''शल्यचिकित्सा के परिणाम मंगलवार को पता चलेंगे। यदि सब कुछ ठीक रहा तो हम बच्चियों को चार सप्ताह तक अस्पताल में रखेंगे।''

 

 

 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कमर से जुड़ी जुड़वां बच्चियों की शल्यक्रिया शुरू