DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू-नैस्कॉम मिलकर पढ़ाएंगे छात्रों को इंडस्ट्री का पाठ

दिल्ली विश्वविद्यालय और नैस्कॉम मिलकर छात्रों को इंडस्ट्री के पाठ पढाएंगे। वह छात्रों को कंपनियों की जरूरतों के अनुरूप तैयार करेंगे ताकि भविष्य में नौकरी के दौरान वह बेहतर प्रदर्शन कर सकें। इस कोर्स को ग्लोबल बिजनेस फाउंडेशन स्किल्स (जीबीएफएस) का नाम दिया गया है। कोर्स खत्म होने के बाद छात्रों को इंस्टीट्य़ूट ऑफ लाइफ लांग लर्निंग (आईएलएलएल) और नैस्कॉम का सर्टिफिकेट मिलेगा।

इंस्टीट्य़ूट ऑफ लाइफ लांग लर्निंग के निदेशक प्रोफेसर ए.के. बख्शी ने बताया कि मौजूदा दौर में देखने में आता है कि छात्रों को जो पढ़ाया जाता है और इंडस्ट्री जो मांग होती है उसमें गैप होता है ऐसे में इंडस्ट्री को छात्रों को फिर से प्रशिक्षित करना पड़ता है। इस लिहाज से जीबीएफएस का कोर्स छात्रों के लिए फायदेमंद हो सकता है। इस कोर्स को अगले शैक्षिक सत्र से लागू कर दिया जाएगा।

यह कोर्स कुल 120 घंटो का होगा। वर्तमान में इसके पांच कॉलेज दीनदयाल उपाध्याय, शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज, मैत्रेयी कॉलेज, खालसा कॉलेज, वेकेंटेश्वर कॉलेज में सेंटर होंगे। जहां इसे पढ़ाया जाएगा। इस माह में नैस्कॉम 25-30 शिक्षकों प्रशिक्षित करेगा जो कि आगे छात्रों को पढ़ाने के साथ अन्य शिक्षकों को भी ट्रेनिंग देंगे। छह अप्रैल को होने वाली वर्कशॉप में इस कोर्स के सिलेबस को फाइनल कर दिया जाएगा। नैस्कॉम छात्रों की इस कोर्स के लिए नैक (नेशनल एसेसमेंट सेंटर) परीक्षा लेगा। जिसके आधार पर चयन करेगा। प्रो. बख्शी ने बताया कि इस कोर्स में दिल्ली विश्वविद्यालय को कोई भी छात्र आवेदन कर सकता है। मकसद ये है कि ज्यादा से ज्यादा छात्र इस कोर्स से लाभान्वित हो।

इस कोर्स में छात्रों को इंडस्ट्री के बारे में जानकारी दी जाएगी। कोर्स में बिजनेस कम्युनिकेशन स्किल, कस्टमर मैनेजमेंट स्किल, पर्सनल कंप्यूटर और डाटा के इस्तेमाल, कैंपस से कारपोरेट जैसे विषयों को पढ़ाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीयू-नैस्कॉम मिलकर पढ़ाएंगे छात्रों को इंडस्ट्री का पाठ