DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साल भर से अटका हुआ विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों का वेतन

2007 बैच के नियुक्त विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों को तैनाती के ग्यारह माह बीत जाने के बाद भी अभी तक वेतन नहीं मिल सका है। पहले यह बताया गया था कि इनके शैक्षिक अभिलेखों का सत्यापन होने के बाद ही वेतन भुगतान का शुरू होगा। विभिन्न जनपदों के जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) की ओर से माध्यमिक शिक्षा परिषद के क्षेत्रीय कार्यालयों और सम्बन्धित शिक्षण संस्थानों शैक्षिक अभिलेख भेजे गए हैं। सत्यापन कार्य में देरी पर यह तय हुआ कि जिनके दो सत्यापन हो चुके हैं, उनको हलफनामा के आधार पर भुगतान कर दिया जाय। शिक्षकों कहना है कि जिनका सत्यापन पूरा हो गया, उन्हें भी भुगतान नहीं दिया जा रहा है। जिससे उनके सामने विकट स्थिति पैदा हो गई है। इस मुद्दे पर वे कई बार धरना प्रदर्शन कर चुके हैं। इसी मांग को लेकर शनिवार को भी शिक्षकों ने बीएसए कार्यालय पर धरना दिया। उनका कहना था कि पुराने अध्यापकों एवं विशिष्ट बीटीसी 2004 व 1999 के अध्यापकों को भी छठें वेतन आयोग की संस्तुतियों के मुताबिक एरियर का भुगतान नहीं हुआ है। 1999 सत्र के अध्यापकों का चयन वेतनमान का अंकन उनकी सेवा पुस्तिका में नहीं हुआ है। विशिष्ट बीटीसी प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले शिक्षकों ने बीएसए कार्यालय पर धरना दिया और बीएसए की अनुपस्थिति में उप बेसिक शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। धरने का नेतृत्व जिला संयोजक यशोवर्धन त्रिपाठी, राजन यादव, अनूप कुमार, हृदयेश यादव, रविप्रकाश सिंह, ज्योति गौड़, कीर्ति सिंह, अर्पिता राय, इन्दुजा सिंह, प्रभाकर द्विवेदी आदि मौजूद थे। दूसरी ओर माध्यमिक शिक्षा परिषद के क्षेत्रीय कार्यालय में विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों की समस्या को देखते हुए प्रमाणपत्रों के सत्यापन कार्य में तेजी लायी गई। इसके लिए विशेष प्रकोष्ठ बना कर अभिलेखों का सत्यापन कराया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साल भर से अटका हुआ विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों का वेतन