DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विपक्षी विधायकों की उपेक्षा का आरोप

कांग्रेस विधायकों ने प्रदेश की निशंक सरकार पर विपक्षी दल के विधायकों की उपेक्षा का आरोप लगाया है। यह विधायक पूर्व में विधानसभा में भी इस मसले को लेकर हंगामा कर चुके हैं।

विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता हरक सिंह रावत ने आरोप लगाया है कि निशंक सरकार विकास के मामले में विपक्षी दल के विधायकों के क्षेत्रों के साथ भेदभाव कर रही है जबकि पूर्व में नारायण दत्त तिवारी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार विपक्षी सदस्यों को कभी शिकायत का मौका नहीं देती थी। रावत ने कहा कि यह मुख्यमंत्री की संकीर्ण मानसिकता का परिचायक है।

पूर्व मंत्री एवं वीरोंखाल क्षेत्र की विधायक अमृता रावत ने भी निशंक सरकार पर उनके विधानसभा क्षेत्र की अनदेखी का आरोप है। उन्होंने कहा कि वीरोंखाल ग्राम समूह पंपिंग पेयजल योजना का पुनरीक्षित आगणन स्वीकृत करने में सरकार जानबूझ कर विलंब कर रही है। इस योजना के तृतीय चरण के निर्माण हेतु उपलब्ध करायी गई धनराशि में से 152.54 लाख रुपये की धनराशि किसी दूसरी योजना के लिए हस्तान्तरित कर दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विपक्षी विधायकों की उपेक्षा का आरोप