DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईमेल अकाउंट की भी कर डाली वसीयत

ईमेल अकाउंट की भी कर डाली वसीयत

क्या आपने कभी सोचा है कि आपके मरने के बाद आपके ईमेल अकाउंट और आपसे जुड़ी अन्य डिजिटल खुफिया जानकारियों का क्या होगा शायद न सोचा हो।

लेकिन राजधानी के एक शख्स ने अपनी मौत के बाद अपने ईमेल अकाउंटों तक किसी की पहुंच रखने के लिए व्यवस्था कर डाली है। राजधानी के एक व्यवसाई ने अपनी वसीयत में अपने अलग-अलग ईमेल अकाउंटों का नॉमिनी अपने बेटों को बनाया है।

इस डिजिटल वसीयत से उनकी मौत के बाद उनके बेटे उनके निजी मेल, निजी फोटो, एलबम, दस्तावेज और वीडियो क्लिप देख सकेंगे। उच्चतम न्यायालय के वकील और साइबर नियम विशेषज्ञ पवन दुग्गल ने बताया डिजिटल वसीयत ऐसी वसीयत है, जिसमें कोई व्यक्ति यह चुनता है कि उसके ईमेल अकाउंटों की जानकारी कौन व्यक्ति देख सकता है।

व्यवसायी कई ईमेल अकाउंट हैं और उन्होंने वसीयत में हर अकाउंट के बारे में स्पष्ट किया है कि उसका नॉमिनी कौन होगा। उनके एक अकाउंट में उनका पूरा कलात्मक कार्य, एक में ऑडियो रिकॉर्डिंग और एक में उनसे जुड़ी अन्य जानकारियां हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ईमेल अकाउंट की भी कर डाली वसीयत