DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेस और ड्लोही ने खत्म किया खिताबी सूखा

पेस और ड्लोही ने खत्म किया खिताबी सूखा

भारत के लिएंडर पेस और उनके जोडी़दार चेक गणराज्य के लुकास ड्लोही ने सोनी एरिक्सन ओपन टेनिस टूर्नामेंट में पुरुष युगल का खिताब अपने नाम कर लिया है। इस सत्र में इस जोडी़ का यह पहला खिताब है।

तीसरी वरीयता प्राप्त पेस और ड्लोही ने शनिवार को मियामी में खेले गए फाइनल में भारत के महेश भूपति और बेलारूस के मैक्स मिर्नई की जोडी़ को लगातार सेटों में 6-2, 7-5 से शिकस्त देकर सत्र का पहला खिताब अपने नाम किया।

पेस और ड्लोही ने जबर्दस्त खेल का प्रदर्शन करते हुए पहले सेट की शुरुआत में दो सडन डेथ अंक जुटाकर 2-0 की बढ़त बना ली और उसके बाद प्रतिद्वंद्वी जोडी़ को कभी भी मुकाबले में लौटने की छूट नहीं दी। दूसरे सेट में भी इस जोडी़ ने अच्छी शुरुआत की लेकिन 3-3 के स्कोर पर वह अपनी सर्विस गंवा बैठी।

नेट पर आक्रामक खेल के लिए मशहूर पेस ने खिताबी मुकाबले में अपनी इस ताकत का भरपूर इस्तेमाल किया। पेस और ड्लोही ने 5-5 के स्कोर पर प्रतिद्वंद्वी जोडी की सर्विस भंग की और फिर अपनी सर्विस बरकरार रखते हुए खिताब अपनी झोली में समेट लिया।

पिछले वर्ष फ्रैंच ओपन और यूएस ओपन में पुरुष युगल का खिताब जीतने वाली इस जोडी़ का इस वर्ष यह पहला खिताब है। उन्हें ब्रिस्बेन और दुबई ओपन में खिताबी मुकाबले में शिकस्त का सामना करना पडा़ था।

भारत के दिग्गज डेविस कप खिलाडी़ पेस के करियर का यह 43वां खिताब है जबकि ड्लोही ने आठवीं बार यह उपलब्धि हासिल की है। पेस इससे पहले 2003 और 2007 में यहां फाइनल में हारे थे।

खिताब जीतने के बाद पेस ने कहा कि यह खिताब जीतने से हम खुश हैं क्योंकि इससे क्ले कोर्ट के बाकी के सत्र के लिए हम पर दबाव नहीं रहेगा। ब्रिस्बेन में हम फाइनल में पहुंचे थे जबकि आस्ट्रेलियन ओपन में क्वार्टर फाइनल तक का सफर किया था। अब हम पर कोई दबाव नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पेस और ड्लोही ने खत्म किया खिताबी सूखा