DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिंदुस्तान कॉपर के एफपीओ को जल्द मिल सकती है मंजूरी

हिंदुस्तान कॉपर के एफपीओ को जल्द मिल सकती है मंजूरी

सरकारी कंपनी हिंदुस्तान कॉपर ने कहा कि उसे इस साल अप्रैल में अपने दूसरे सार्वजनिक निर्गम (एफपीओ) को मंत्रिमंडल से मंजूरी मिलने की उम्मीद है, जिससे वह 10 हजार करोड़ रुपये जुटाना चाहती है।

हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड (एचसीएल) के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक शकील अहमद ने कहा अब हमें उम्मीद है कि दूसरी पेशकश का प्रस्ताव अप्रैल में केंद्रीय मंत्रिमंडल के सामने रखा जाएगा।

कंपनी के कामकाज की निगरानी करने वाले खनन मंत्रालय ने इससे पहले उम्मीद जताई थी कि दूसरी पेशकश (एफपीओ) को अनुमति 31 मार्च 2010 से पहले मिल जाएगी। अहमद ने कहा कि देर इसलिए हो रही है कि हमने एफपीओ प्रस्ताव को अंतिम मंजूरी मिलने से पहले कंपनी के 2009-10 के वित्तीय नतीजे का इंतजार करना चाहा। हमें अच्छे नतीजे की उम्मीद है क्योंकि पिछला चार महीना उत्पादकता के लिहाज से अच्छा रहा है और लंदन मेटल एक्सचेंज में भी कीमतें बढ़ी हैं।

लंदन मेटल एक्सचेंज तांबा, जस्ता, सीसे जैसे आधार धातुओं के लिए बेंचमार्क की तरह काम करता है। तांबे की कीमत दिसंबर में ऊपर-नीचे होती रही है। पिछले साल दिसंबर में तांबे की कीमत 7,000 डॉलर प्रति टन थी, जबकि फरवरी में 5,700 डॉलर प्रति टन और पिछले महीने 7,880 डॉलर प्रति टन पर थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हिंदुस्तान कॉपर के एफपीओ को जल्द मिल सकती है मंजूरी