DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाउन संबंधी रमेश की टिप्पणी से बिफरा इसाई समुदाय

गाउन संबंधी रमेश की टिप्पणी से बिफरा इसाई समुदाय

उच्च शिक्षण संस्थानों में दीक्षांत समारोहों के दौरान गाउन पहनने की परंपरा को उपनिवेशवाद का बर्बर स्मृति चिह्न् करार देने के लिए उड़ीसा के एक इसाई समूह ने केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश से माफी मांगने की मांग की है।

रमेश की टिप्पणी को पोप और विश्व भर के इसाईयों के खिलाफ करार देते हुए बेंगलुरु स्थित ग्लोबल काउंसिल ऑफ इंडियन क्रिश्चियंस (जीसीआईसी) के अध्यक्ष साजनके जॉर्ज ने कहा कि केंद्रीय मंत्री की इस टिप्पणी से धार्मिक भावनाओं को गहरा आघात लगा है।

रमेश ने गत शुक्रवार को भारतीय वन प्रबंधन संस्थान, भोपाल के सातवें दीक्षांत समारोह में कहा था, ''दीक्षांत समारोहों के दौरान गाउन पहनने की परंपरा उपनिवेशवाद का बर्बर स्मृति चिह्न् है। गाउन के स्थान पर हम साधारण कपड़े क्यों नहीं पहन सकते।'' यह कहते हुए रमेश ने गाउन उतार दिया था।

जॉर्ज ने कहा, ''जीसीआईसी केंद्रीय मंत्री की इस संवेदनहीन टिप्पणी की कड़े शब्दों में निंदा करती है। इससे भी अधिक चिंता की बात यह है कि मंत्री ने पोप की अवहेलना करने के लिए उस भोपाल को चुना, जो इसाइयों के उत्पीड़न का केंद्र है।'' उन्होंने कहा, ''जीसीआईसी ऐसी संवेदनहीन टिप्पणी के लिए रमेश से माफी मांगने की मांग करती है।''

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गाउन संबंधी रमेश की टिप्पणी से बिफरा इसाई समुदाय