DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मॉक प्रैक्टिस से ही दूर होगा इंटरव्यू का डर

संघ लोक सेवा आयोग की ओर से इस समय सिविल सेवा साक्षात्कार चल रहा है। पहले दौर में अंग्रेजी माध्यम के अभ्यर्थियों का इंटरव्यू हो रहा है, जो छह अप्रैल तक चलेगा। दूसरा दौर 10 अप्रैल से शुरू होगा। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अध्ययनरत और यहाँ से पढ़कर बाहर निकल चुके छात्र इस समय समूहों में बैठकर मॉक इंटरव्यू की तैयारी में लगे हैं। इन छात्रों को चन्द्रशेखर प्वाइंट में शशांक शेखर ने मॉक प्रैक्टिस के लिए कुछ टिप्स दिए हैं। उनका कहना है कि इंटरव्यू के गुर जान लेना ही जरूरी नहीं है। अभ्यास करने से ही आपको इंटरव्यू कक्ष में स्थिति कहीं अधिक सहज लगेगी। शशांक इन दिनों अपने संस्थान में छात्रों के अलग-अलग समूह बनाकर उनकी झिझक दूर करके लिए उन्हें प्रैक्टिस करवा रहे हैं। उनका कहना है कि इस प्रैक्टिस के साथ अभ्यर्थियों की झिझक को सामने लाकर उसे दूर करने का काम चल रहा है।

मॉक प्रैक्टिस के लिए सुझाव
चार पाँच लोगों का ग्रुप बना लें।
ग्रुप में कुछ बोर्ड मेम्बर की भूमिका में रहें और कुछ उन्हें इंटरव्यू दें। दोस्तों को कहें कि वे दोस्त की बजाय एक निर्णायक की मानसिकता से प्रश्न पूछें।
आपस में खूब डिस्कशन करें। इससे आपको विभिन्न विषयों पर तथ्यों को एक साथ याद करने में मदद मिलेगी, इससे जानकारी तो निश्चित ही बढ़ेगी।
आप अपने मॉक इंटरव्यू को रिकार्ड कर सकते हैं। इसको बाद में भी सुनकर अपनी कमी को दूर करने की कोशिश कर सकते हैं।
मॉक इंटरव्यू के दौरान अपने साथियों से यह भी विचार करें कि उनके ऊपर कौन सा रंग सही मैच करेगा।
यह ध्यान रखें कि बुद्धि-मन से आप कितने ही योग्य हों, लेकिन प्रथम परिचय तो आपकी वाह्य छवि से ही होगा।
मॉक प्रैक्टिस में यह देखें कि आपको घबराहट तो नहीं हो रही।
मॉक इंटरव्यू में भी मूल इंटरव्यू की भावना से ही साक्षात्कार दें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मॉक प्रैक्टिस से ही दूर होगा इंटरव्यू का डर