DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सामूहिक नकल पर 21 सेण्टरों की परीक्षाएं निरस्त

परीक्षा के दौरान गुरुवार को सामूहिक नकल मिलने पर प्रदेश के 21 सेण्टरों की परीक्षाएं निरस्त की गईं। गुरुवार को लखनऊ मण्डल में सबसे अधिक 25 नकलची पकड़े गए, जबकि आगरा में छह, अलीगढ़ में पाँच, बरेली में सात, मुरादाबाद में दो, झांसी में तीन, फैजाबाद में सात, देवीपाटन में 12, गोरखपुर में तीन, बस्ती में छह, वाराणसी में 20 और मिर्जापुर में चार नकलची पकड़े गए हैं। अब तक कुल 7610 नकलची पकड़े गए हैं, इनमें 2315 छात्राएँ हैं। परीक्षा के दौरान गड़बड़ी करने पर अब तक 599 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है।

प्रतापगढ़ जिले के लालगंज क्षेत्र के सुहागपुर इण्टर कॉलेज में सामूहिक नकल मिलने पर दो कक्ष निरीक्षक कार्यमुक्त कर दिए गए। प्रतापगढ़ में पाँच और कौशाम्बी जिले में 17 नकलची दबोचे गए।

बारा और लोहगरा संवाददाता के अनुसार डीआईओएस दिनेश कुमार के नेतृत्व में दस्ते ने लोहगरा में चार और शंकरगढ़ में दो परीक्षार्थियों को नकल करते तथा दो अध्यापकों को नकल कराते पकड़ा। रणजीत पण्डित इण्टर कॉलेज लोहगरा में प्रथम पाली की परीक्षा में चार नकलची पकड़े थे। इसी विद्यालय के प्राइमरी सेक्शन के अध्यापक गिरिजा शंकर द्विवेदी और रामायण प्रसाद हाई स्कूल जारी के अध्यापक दिलीप कुमार प्रजापति को नकल कराते पकड़ा गया है। दोनों क्रमश: कमरा नं. 10 और कमरा नं. 17 में ड्य़ूटी के दौरान किताब से नकल करा रहे थे। इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है। यहाँ के बाद उड़ाका दल पत्ती देवी बालिका विद्यालय शंकरगढ़ पहुँचा। वहाँ भी दो परीक्षार्थियों को नकल करते पकड़ा गया। वहीं, कोराँव संवाददाता के अनुसार प्रथम पाली में हाईस्कूल संस्कृत प्रश्नपत्र की परीक्षा के दौरान लखवन्ती बालिका इंटर कालेज गाढ़ा की आधा दजर्न छात्रओं को नकल करते तहसीदार आशीष मिश्र ने पकड़ा। सभी को रिस्टीकेट कर दिया गया है। मिश्र के अनुसार जब वे परीक्षा केन्द्र पर पहुँचे तो छात्रओं द्वारा सामूहिक नकल किया जा रहा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सामूहिक नकल पर 21 सेण्टरों की परीक्षाएं निरस्त