DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र में बदालव नहीं

पंजाब में विभिन्न कर्मचारी संघों की मांगों को खारिज करते हुए राज्य सरकार ने शनिवार को निर्णय किया कि प्रदेश के कर्मचारियों की सेवा निवृत्ति की उम्र 58 साल बनी रहेंगी।

विभिन्न कर्मचारी संघों ने राज्य सरकार से कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र दो साल बढ़ाए जाने की मांग की थी, जैसा कि शिरोमणि अकाली दल ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में वादा किया था।

सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की अध्यक्षता में शनिवार को हुई कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय किया गया कि कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।

इस बैठक में हालांकि, राज्य सेवा में सम्मिलित होने के लिए अधिकतम आयु सीमा 35 साल से बढ़ा कर 37 किए जाने को मंजूरी दे दी गई।

सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार पर विभिन्न क्षेत्रों से अवकाश प्राप्त करने की आयु सीमा में बढ़ोत्तरी नहीं करने के लिए दबाव पड़ रहा था। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा था कि युवाओं को इससे कम मौका मिलेगा और भर्ती प्रक्रिया भी धीमी होंगी।

राज्य सरकार के विभिन्न कर्मचारी संघों ने भी सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा में बढ़ोत्तरी करने की मांग की थी, क्योंकि 2007 के विधानसभा चुनाव में शिरोमणि अकाली दल ने अपने घोषणा पत्र में ऐसा किए जाने का वादा किया था।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की उम्र में बदालव नहीं