DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका के कालेजों में दाखिले की राह बतायी

डीपीएस वाराणसी में आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला में सैट परीक्षा के बारे में विद्यार्थियों को बताया गया। सैट एक ऐसी परीक्षा है जिसके माध्यम से अमेरिका जेसे देश के विश्वविद्यालयों और कालेजों में दाखिला पाया जा सकता है। कार्यशाला यूथ फॉर अंडरस्टैडिंग इंडिया के सौजन्य से आयोजित किया गया।

यूथ फॉर अंडरस्टैडिंग के जनरल मैनेजर हैंडरसन ने सैट में लेखन, पठन और तार्किक क्षमता की परीक्षा ली जाती है। क्रिटिकल रीडिंग क्वेश्चन भी रखे जाते हैं। अंग्रेजी भाषा सम्बन्धी दक्षता की जांच की जाती है। पूरी परीक्षा 3 घंटे 45 मिनट की होती है। इसमें तीन विषय के 17 सेक्शन होते हैं। प्रश्नपत्र 2400 प्वाईंट के होते हैं। इसमे गणित, अंग्रेजी और क्षमता के प्रश्न 800 प्वाइंट के होते हैं। अच्छे अंक प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी का चयन कर लिया जाता है। परीक्षा के संचालन के लिए सैट की दिल्ली में तीन शाखाएं हैं। हैंडरसन ने बताया कि आने वाले समय में डीपीएस वाराणसी में भी इसकी शाखा खुल सकती है। परीक्षा के लिए उत्सुक परीक्षार्थियों को चयन प्रक्रिया से गुजारा गया। कुछ बच्चों का चयन भी किया गया। बच्चों ने विभिन्न प्रकार के प्रश्न भी पूछे। सैट कार्यक्रम के दूसरे दिन यूथ फार अडरस्टैडिंग एक्सचेंज इंडिया के तहत उन अभिभावकों कई जानकारियां दी गई, जिनके यहां विदेश से आये बच्चे ठहरेंगे। इस मौक पर डीपीएस के निदेशक पंकज राजगढ़िया ने कहा कि आज विश्व की दूरियां घट रही हैं। शिक्षा का वैश्वीकरण हो रहा है। इसलिए अब आवश्यकता इस बात की है कि बच्चों को विदेश के विभिन्न शिक्षा क्षेत्रों से जोड़ा जाय। कार्यशाला में यूथ फार अडरस्टैडिंग इंडिया के जनरल काउंसलर मनमीत ग्रेवाल और कार्यकम निदेशक सुखबीर सिंह मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिका के कालेजों में दाखिले की राह बतायी