DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक इस्लामी विशेषज्ञों ने आयशा के निकाहनामे पर उठाया सवाल

पाक इस्लामी विशेषज्ञों ने आयशा के निकाहनामे पर उठाया सवाल

इस्लामी मामलों के विशेषज्ञ और पाकिस्तानी वकीलों ने खुद को शोएब मलिक की पहली पत्नी साबित करने के लिए आयशा सिद्दीकी द्वारा पेश किए गए निकाहनामे की वैधता पर सवाल उठाते हुए कहा है कि यह दस्तावेज इस क्रिकेटर को सानिया मिर्जा के साथ निकाह करने से नहीं रोक सकता।

जाने-माने विशेषज्ञ मुफ्ती मोहम्मद नईम ने कहा कि इस्लामी शरिया के मुताबिक टेलीफोन पर किया गया निकाह मान्य नहीं होता। आयशा ने टेलीफोन पर निकाह का दावा किया है। नईम ने कहा कि तलाक का सवाल ही नहीं उठता, क्योंकि टेलीफोन पर बिना पर्याप्त गवाहों के किया गया निकाह शरिया में मान्य नहीं है।

प्रसिद्ध बैरिस्टर और परिवार कानून विशेषज्ञ तालिब रिज्वी ने भी सिद्दीकी परिवार द्वारा पेश निकाहनामे की वैधता पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह तब तक पर्याप्त नहीं है जब तक वे दोनों पक्षों की ओर से गवाह भी पेश नहीं कर देते। उन्होंने कहा कि इसे वैध और कानूनी निकाहनामा नहीं माना जा सकता जब तक कि गवाह मौजूद ना हों और दूसरा यहां एक पक्ष इस बात से इनकार कर रहा है कि कभी निकाह हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक इस्लामी विशेषज्ञों ने आयशा के निकाहनामे पर उठाया सवाल