DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

शहर के पॉश इलाके  में रहने वाले एक कंप्युटर इंजीनियर ने संदिग्ध परिस्थितियों में आत्महत्या कर ली। अपने कमरे में वह फांसी में झूल गया। मरने से पहले उसने परिजनों के नाम एक सुसाइड लिखा था।

जिसमें परिजनों को परेशान न होने की सलाह दी थी। आत्महत्या करने के पीछे उसका काफी दिनों से बेरोजगार होना बताया जा रहा है। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

सेक्टर-35 अशोका मेन के मनोहर सिंह रावत के बेटे बहादुर सिंह ने सेक्टर-16 के एक प्राइवेट इंस्टीटय़ूट से कुछ दिनों पहले कंप्यूटर कोर्स पूरा किया था। कोर्स पूरा करने के बाद से वह नौकरी की तलाश में था।

कई महीनों से घर पर होने के कारण तनाव ग्रस्त था। शुक्रवार को काफी देर तक वह अपने कमरे से बाहर नहीं आया। इसपर घर वालों ने उसका दरवाजा खटखटाया। इस पर भी अंदर से अवाज न आने पर घरवालों ने दरवाजा तोड़ दिया।

अंदर का नजारा देख सब दंग रह गए। बहादुर कमरे के कुंडे से फंदे पर लटक रहा था। घरवालों ने आनन-फानन उसे नीचे उतारा। अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मरने से पहले उसने एक सुसाइड नोट अपने पिता के नाम पर लिखा था। जिसमें उसने अपनी मन मर्जी मौत को गले लगाने की बात लिखी थी। इसके लिए किसी दूसरे को जिम्मेदार नहीं ठहराया।

बहादुर तीन बहनों के बीच अकेला भाई था। घटना ने पूरे परिवार को हिला दिया है। मुहल्ले में मातम सा पसरा हुआ है। इसकी सूचना मिलते ही सराय ख्वाजा थाना प्रभारी प्रीतपाल मौके पर पहुंच गए। उन्होंने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या की