DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वर्ष 2009 में मोबाइल हैंडसेट की बिक्री समान्य रही

वर्ष 2009 में मोबाइल हैंडसेट की बिक्री समान्य रही

देश में वर्ष 2009 में 10.154 करोड़ मोबाइल हैंडसेटों की बिक्री हुई जो इससे पूर्व के वर्ष की तुलना में सामान्य है। वर्ष के पहले छह महीने (जनवरी-जून) के दौरान बिक्री में गिरावट का रुख देखा गया था।

बाजार पर नजर रखने वाली संस्था आईडीसी इंडिया के मुताबिक हैंडसेट बनाने वाली कंपनी नोकिया की कुल बिक्री में हिस्सेदारी 54.1 फीसदी रही।

कोरियाई कंपनी सैमसंग और एलजी की हिस्सेदारी क्रमश: 9.7 फीसदी और 6.4 फीसदी रही। सैमसंग दूसरे और एलजी तीसरे स्थान पर हैं।

आईडीसी के मुताबिक वर्ष 2009 की चौथी तिमाही में बाजार में सुधार का रुख दिखा। वर्ष की अंतिम तिमाही में वर्ष 2008 की अंतिम तिमाही की तुलना में 2.3 फीसदी की बढ़त देखी गई। इस दौरान 2.836 करोड़ मोबाइल हैंडसेट की बिक्री हुई थी।

पूरे वर्ष के आंकड़ाें पर नजर डालें तो पता चलता है कि कुल मोबाइल हैंडसेटों की बिक्री के मामले में नई कंपनियों की हिस्सेदारी 12.3 फीसदी रही। इस दौरान भारतीय बाजार में ऐसी नई कंपनियों की संख्या बढ़कर 28 हो गई और वर्ष की अंतिम तिमाही (अक्टूबर-नवंबर) के दौरान कुल बिक्री में इनकी हिस्सेदारी 17.5 रही।

वर्ष 2008 की जनवरी-मार्च तिमाही में केवल पांच नई कंपनियां थी और उनकी कुल बाजार हिस्सेदारी केवल 0.9 फीसदी रही। इस तरह बाजार में नई कंपनियों के आधुनिक मोबाइल हैंडसेटों की बिक्री में तेजी से इजाफा हो रहा है।

आईडीसी इंडिया के मोबाइल हैंडसेट रिसर्च के मुख्य विेषक नवीन मिश्र के मुताबिक छोटे और मध्य आकार के मोबाइल हैंडसेट के बाजार में भीड़ बढ़ी है। इस आकार में स्मार्टफोन की तरह दिखने वाले हैंडसेटों की बिक्री बढ़ी है।

मिश्र के मुताबिक हैंडसेट बाजार में यह चलन जारी रहने की संभावना है और आने वाले समय में इस तरह के और हैंडसेट दिखेंगे जो स्मार्टफोन से मिलते-जुलते हों। इस तरह के हैंडसेटों को छात्र, युवा कार्यकारी सबसे ज्यादा पसंद कर रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वर्ष 2009 में मोबाइल हैंडसेट की बिक्री समान्य रही