DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयशा ने तोड़ी चुप्पी, कहा पहले तलाक दें शोएब

आयशा ने तोड़ी चुप्पी, कहा पहले तलाक दें शोएब

सानिया मिर्जा से 15 अप्रैल को होने वाले विवाह से पहले शोएब मलिक पर भड़ास उतारते हुए आयशा सिद्दीकी और उसके परिवार ने पाकिस्तानी क्रिकेटर पर मुकदमा करने की धमकी देते हुए साफ तौर पर कहा कि यह मामला तभी खत्म होगा जब उसे आधिकारिक तौर पर तलाक मिल जाएगा।

आयशा ने शोएब से 2002 में निकाह होने का दावा किया है। उसने शुक्रवार को भारतीय और पाकिस्तानी चैनलों को निकाहनामे की प्रति देने के साथ इस मसले पर पहली बार चुप्पी तोड़ी।

कई पाकिस्तानी टीवी चैनलों पर निकाहनामा दिखाया गया जिस पर दूल्हे के कालम में शोएब के दस्तखत हैं और दुल्हन के कॉलम में मोहतरमा सिद्दीकी के हस्ताक्षर हैं।

आयशा ने कहा कि मैने निकाहनामा इसलिये जारी किया क्योंकि शोएब और उसका परिवार लगातार निकाह का खंडन कर रहा है।

शोएब और सानिया का निकाह 15 अप्रैल को हैदराबाद में होना है जिसके बाद लाहौर में रिसेप्शन है।

आयशा ने कहा कि मैं सिर्फ उससे आधिकारिक तौर पर तलाक चाहती हूं लेकिन यह सभी के सामने होना चाहिये क्योंकि वह बाद में भी इस बात से मुकर सकता है कि हमारा निकाह हुआ था। मैं आगे बढ़ना चाहती हूं और मैं नहीं चाहती कि लोग लगातार मुझसे इस निकाह के बारे में सवालात करे। आधिकारिक तौर पर तलाक, तलाक, तलाक कहने से भी काम चल जायेगा।

     सिददीकी परिवार ने दावा किया है कि शोएब का निकाह उनकी बेटी से हो चुका है और सानिया उसकी दूसरी बीबी होगी। पाकिस्तानी क्रिकेटर और उसका परिवार लगातार इसका खंडन कर रहा है।

सिद्दीकी ने मलिक पर मानहानि का मुकदमा दायर करने की धमकी देते हुए उलेमा से उसके खिलाफ फतवा जारी करने की मांग की।

आयशा ने कहा कि उसने निकाहनामा इसलिये जारी किया क्योंकि इससे साबित होता है कि शादी हुई थी।

उसने कहा कि इस पर गवाहों के दस्तखत हैं और शोएब ने मुझे इसकी कापी दस्तखत के लिये भेजी थी। इस पर हक मेहेर के रूप में 500 पाकिस्तानी रुपये लिखे गए हैं।

उसने यह भी कहा कि शोएब को उसके मोटापे से दिक्कत थी और उसके लिये उसने दिल्ली में आपरेशन भी कराया।

शोएब के जीजा इमरान जफर मलिक ने मैरिज सर्टिफिकेट को फर्जी बताते हुए कहा कि कोई निकाह हुआ ही नहीं था। उन्होंने कहा कि मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कहना चाहता कि आयशा बेहद काबिल लड़की है लेकिन कुछ लोग उसे गुमराह कर रहे हैं।

इमरान ने कहा कि सिददीकी परिवार ने उनके सामने कोई विकल्प नहीं छोड़ा है और अब उन्हें कानूनी कार्रवाई करनी ही होगी।

आयशा ने कहा कि मैं भले ही जीती नहीं लेकिन हारी भी नहीं हूं। यदि वह मुझे नहीं चाहता तो मुझे भी उसकी ख्वाहिश नहीं है। मेरे पिता की बायपास सर्जरी हुई है। मैं हमदर्दी की भीख नहीं मांग रही। मैं ही जानती हूं कि मेरे परिवार पर क्या गुजरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयशा ने तोड़ी चुप्पी, कहा पहले तलाक दें शोएब