DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (02 अप्रैल, 2010)

कैग की रिपोर्ट ने दिल्ली सरकार का कच्चा चिट्ठा खोल दिया है। घाटे के नाम पर डीटीसी का किराया बेहिसाब बढ़ा दिया गया। इस बढ़ोतरी की पीड़ा इन बसों में सफर करने वाले आम जन को आज परेशान करती है।

रिपोर्ट ने सरकार की उन दलीलों की धज्जियां उड़ा दीं, जो उसने इस फैसले को सही ठहराने के लिए गढ़ी थीं। कैग ने लो फ्लोर बसों के बारे में की गईं बड़बोली घोषणाओं को भी रद्दी की टोकरी में डाल दिया। लेकिन इससे भी बड़ा सवाल है कि कैग की रिपोर्ट का सचमुच कोई असर होगा? क्या सरकार गलत ठहराए गए फैसलों को वापस लेगी? शायद नहीं। इस कवायद को अफसरशाही की अबूझ उलटबांसी का ही एक हिस्सा समझा जाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (02 अप्रैल, 2010)