DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुबई में सजायाफ्ता भारतीयों के परिजनों ने उन्हें निर्दोष कहा

संयुक्त अरब अमीरात में एक पाकिस्तानी की हत्या के मामले में जिन 17 भारतीयों को मौत की सजा सुनाई गई है। उनके परिवार वाले उन्हें निर्दोष बताते हुए अपनी आवाज वहां तक पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं।

इन लोगों के परिजनों ने गुरुवार को अपने प्रियजनों की तस्वीर हाथ में लिये हुए कहा कि वे ही पूरे परिवार की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं और उन्हें फंसाया जा रहा है।

लोक भलाई पार्टी नामक संगठन ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया, जिसमें इन लोगों के रिश्तेदार भी शामिल हुए।

17 भारतीयों में शामिल बलजीत के भाई सुखविंदर सिंह ने कहा कि मेरा भाई 40 दिन पहले ही दुबई गया था। उसे उस समय गिरफ्तार किया गया, जब वह अपने घर में सो रहा था।

इसी तरह अरविंदर के पिता बलराज सिंह ने कहा कि उनका बेटा दो साल पहले दुबई गया था और चालक का काम कर रहा था। बलराज ने कहा कि उसे लौटना था तभी उसे हवाईअडडे से गिरफ्तार कर लिया गया।

इसी तरह रंजीत कौर को अखबारों से अपने पति धरम पाल को सजा सुनाये जाने की जानकारी मिली। उन्होंने कहा, मेरे पति नौकरी की तलाश में दो साल से भी अधिक समय पहले दुबई गये थे और उन्होंने अपनी ट्रेक्टर ट्राली बेचकर ट्रेवल एजेंट को एक लाख रुपये दिये थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दुबई में सजायाफ्ता भारतीयों के परिजनों ने उन्हें निर्दोष कहा