DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एबीवीपी के बिहार बंद का मिश्रित असर

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं पर पुलिस लाठी चार्ज के विरोध में गुरूवार को एक दिवसीय बिहार बंद का मिश्रित असर रहा। इस दौरान पुलिस ने राज्य भर में कुल 650 लोगों को हिरासत में लिया। 

राज्य के पुलिस महानिर्देशक नीलमणि ने बताया कि एबीवीपी के एक दिवसीय बंद के दौरान किसी भी क्षेत्र से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

बंद के दौरान राज्य में कुल 650 समर्थकों को हिरासत में लिया गया। जिन्हें बाद में छोड़ दिया गया। सबसे अधिक गोपालगंज में 146 लोगों को हिरासत में लिया गया हैं।

पटना में 19, अररिया में 62, नालंदा में 12, जहानाबाद में 20, सीवान में 60, बांका में 40, दरभंगा में 20 कार्यकताओं को हिरासत में लिया गया।

इसबीच, एबीवीपी के प्रवक्ता जयनारायण ने बंद के पूर्णत: सफल रहने का दावा करते हुए कहा है कि पूरे राज्य में बंद स्वत: स्फूर्त था जो राज्य सरकार के फैसले को गलत साबित कर रहा है।

इसके पूर्व बंद समर्थकों ने नवादा, आरा तथा गया में रेल मार्ग को भी रोकने का प्रयास किया। परंतु पुलिस ने जल्द ही समर्थकों को खदेड़ दिया। पटना विश्वविद्यालय में समर्थकों और पुलिस के बीच हल्की झड़प हुई।

बेगूसराय में शहर की दुकानें बंद रहीं तथा समर्थकों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर आगजनी कर आवागमन बाधित किया। इधर, किशनगंज, बक्सर, मुंगेर, मोतिहारी में भी बंद का मिला जुला असर रहा।

गोपालगंज में एक सरकारी अधिकारी के वाहन पर भी समर्थकों ने पथराव किया। भागलपुर में बंद का व्यापक असर देखने को मिला।

बंद के मद्देनजर पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे। पुलिस मुख्यालय के एक अधिकारी के मुताबिक राज्य के सभी संवेदनशील स्थानों पर पुलिस बल तैनात करने का आदेश दिया गया।

पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनीत विनायक ने गुरूवार को बताया कि राजधानी के सभी चौराहों पर पुलिस बल तैनात हैं तथा प्रमुख स्थानों पर दंडाधिकारियों की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। इस बंद को विश्व हिन्दू परिषद का भी समर्थन प्राप्त है।’’

उल्लेखनीय है कि किशनगंज में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की शाखा खोलने के विरोध में एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने 29 मार्च को पटना में प्रदर्शन किया था, जिस पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया था।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एबीवीपी के बिहार बंद का मिश्रित असर