DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्युत परियोजनाओं पर केन्द्र उत्तराखंड को भरोसे में ले

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने केन्द्र सरकार द्वारा उत्तराखण्ड की दो जल विद्युत परियोजनाओं के निर्माण पर रोक लगाने संबंधी समाचारों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य को भरोसे में लिए बिना इस प्रकार का कोई भी फैसला उचित नहीं हैं।

निशंक ने गुरूवार को कहा कि किसी भी फैसले से पहले केन्द्र सरकार को उत्तराखण्ड के लिए एक हजार मेगावाट बिजली मुफ्त में दिए जाने की राज्य की मांग पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि गंगा पर जितनी परियोजनाएं बननी हैं, उनसे संबंधित निर्णय प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में गठित गंगा नदी बेसिन प्राधिकरण द्वारा किया जाएगा।

इस प्राधिकरण द्वारा उत्तराखण्ड की जल विद्युत परियोजनाओं के संबंध में अभी तक कोई भी निर्णय नहीं किया गया हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विद्युत परियोजनाओं पर केन्द्र उत्तराखंड को भरोसे में ले