DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू ने उच्चतम न्यायालय के फैसले का किया स्वागत

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष और पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को आय से अधिक संपत्ति के मामले में उच्चतम न्यायालय से मिली राहत को न्याय की जीत बताया।


 यादव ने उच्चतम न्यायालय के फैसले पर यहां प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि उच्चतम न्यायालय ने उनकी याचिका पर फैसला सुनाते हुए कहा कि आय से अधिक संपत्ति के मामले में उन्हें और उनकी पत्नी श्रीमती राबडी देवी को बरी करने के निचली अदालत के फैसले को चुनौती देने का अधिकार बिहार सरकार को नहीं है। उन्होंने इस फैसले को न्याय की जीत बताया और कहा कि उनका भगवान और सर्वोच्च न्यायालय पर पूरा रहा भरोसा है।

 यादव ने कहा कि राजनीतिक कारणों से उन्हें और उनकी पत्नी को झूठे मामलों में फंसाया गया,लेकिन उन्हें न्यायपालिका पर भरोसा था। उन्होंने कहा कि आज अदालत से एक बार फिर उन्हें न्याय मिला।
 इस बीच उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने उच्चतम न्यायालय के फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस मामले में अभी आगे लंबी लडाई है। उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले की प्रति मिलने के बाद उसका अध्ययन किया जाएगा और इसके खिलाफ कानूनी विकल्पों की तलाश की जाएगी।

 इस बीच राजद कार्यकर्ताओं ने उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मिठाईयां बांटकर खुशी का इजहार किया। पार्टी के प्रधान महासचिव और पूर्व सांसद रामकृपाल यादव ने कहा कि राजद अध्यक्ष के विरोधियों को इस फैसले से सबक लेना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लालू ने उच्चतम न्यायालय के फैसले का किया स्वागत