DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती हैं..

मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती हैं, स्वप्न के परदे निगाहों से हटाती हैं। हौसला मत हार गिर कर ओ मुसाफिर, ठोकरें इंसान को चलना सिखाती हैं। इसी बुलंद हौसले के साथ भवनाथपुर टाउनशिप निवासी राहुल कुमार शर्मा ने हिन्दुस्तान कोचिंग स्कॉलरशिप में सफलता प्राप्त कर इंजीनियर बनने का सपना साकार किया है। आर्थिक तंगी झेल रहे राहुल कुमार शर्मा ने रांची के मारवाड़ी कॉलेज में आइएससी में नामांकन कराया।

परिस्थितिवश आइआइटी से इंजीनियर बनने का सपना दबता जा रहा था। उसके बड़े भाई रवि कुमार शर्मा ने हिन्दुस्तान कोचिंग स्कॉलरशिप के बारे में जानकारी दी। राहुल परीक्षा में सफल रहा। अब राहुल को इंजीनियरिंग की कोचिंग मुफ्त मिलती है। इस सफलता से पिता अजय कुमार शर्मा, माता लीलावती शर्मा, भाई राकेश तथा बहन प्रियंका व अनुराधा काफी आनंदित हैं। राहुल की मां गृहिणी हैं। पिता भवनाथपुर टाउनशिप सेल के आइएसएस ठेका कंपनी में सुपरवाइजर हैं। अजय कुमार शर्मा अपने बच्चों को पढ़ाने में असमर्थ थे, पर राहुल को उच्च शिक्षा देने के प्रति काफी सजग एवं प्रयासरत थे। उन्होंने कहा कि उनका सपना हिन्दुस्तान कोचिंग स्कॉलरशिप पूरा कर रहा है। राहुल भी हिन्दुस्तान का शुक्रगुजार है। डीएवी स्कूल से 89.4 प्रतिशत अंक के साथ राहुल ने दसवीं कक्षा पास की है। वह अपने स्कूल का टॉपर रहा है। वह इंजीनियर बन कर देश सेवा करना चाहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती हैं..