DA Image
26 फरवरी, 2020|5:44|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीनी खतरे से निपटने को तैयार सेनाः सेना प्रमुख

चीनी सेना की आधुनिकीकरण योजनाओं पर रक्षा मंत्रालय की चिंता से सहमति जताते हुए नए सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने कहा कि बल देश के सामने आने वाले किसी भी खतरे से निपटने के लिए मापदंडों के अनुरूप खड़े होंगे।

कार्यभार संभालने से पहले उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि व्यक्त चिंता सही है और आपके जरिए मैं अपने देशवासियों को यह संदेश देना चाहूंगा कि हमारी सेना देश के सामने आने वाले किसी भी खतरे से निपटने के लिए मापदंडों के अनुरूप खड़ी होगी ।

उन्होंने कहा कि सरकार ने इस साल के बजट में सेना के लिए बढ़ाकर आवंटन राशि उपलब्ध कराई है और हमारा प्रयास होगा कि अच्छी तरह तैयार होने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाए।

यह पूछे जाने पर कि भारतीय सेना चीन की रैपिड एक्शन फोर्स के सामने किस तरह तैयार होगी सिंह ने कहा कि मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं कि हम अपने खिलाफ किसी भी खतरे से निपटने के लिए भली भांति तैयार हैं। सिंह ने उल्लेख किया कि तैयारी एक जारी प्रक्रिया है और सेना सुनिश्चत करेगी कि सभी खतरों को ध्यान में रख उसकी प्रशिक्षण विधियां अधिक व्यावहारिक हों।

रक्षा मंत्रालय ने 2009-10 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा है कि वह चीनी सेना के आधुनिकीकरण और तिब्बत तथा आसपास के क्षेत्रों में ढांचागत विकास के बारे में सचेत और सतर्क है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मंत्रालय ने सीमा पर अपने बल स्तर के पुनर्गठन के लिए आवश्यक कदम उठाए हैं। इससे पहले सिंह ने 2 राजपूत रेजीमेंट का सलामी गारद लिया। वह कर्नल के रूप में इस बटालियन का नेतृत्व कर चुके हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:चीनी खतरे से निपटने को तैयार सेनाः सेना प्रमुख