DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार रोकने के लिए करेंगे आंतरिक सुधारः नए सेना प्रमुख

भ्रष्टाचार रोकने के लिए करेंगे आंतरिक सुधारः नए सेना प्रमुख

नए सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए वह बल की आतंरिक स्थिति में सुधार पर ध्यान केन्द्रित करेंगे। जनरल वीके सिंह ने गुरुवार को सेना प्रमुख का कार्यभार संभाला।

कार्यभार संभालने के बाद जनरल वीके सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सेना में व्याप्त भ्रष्टाचार एक गंभीर मुद्दा है और उसको दूर करने के लिए सेना में आंतरिक सुधार पर जोर होगा। उल्लेखनीय है कि सुकना जमीन घोटाले में एक शीर्ष सैन्य अधिकारी का नाम आने से सेना सकते में है।

उन्होंने कहा कि बाहरी चुनौतियों से निपटने के लिए देश की आंतरिक सुरक्षा मजबूत बनाने की जरूरत है। सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ''हमारा अंदरूनी स्वास्थ्य (सुरक्षा) बहुत आवश्यक है। जब तक हमारी आंतरिक सुरक्षा पर्याप्त नहीं होगी, तब तक हम बाहरी चुनौतियों का भी बखूबी सामना नहीं कर सकेंगे।''

सिंह ने कहा, ''इसके लिए हमें अपने बुनियादी मूल्यों और लोकाचार की ओर ध्यान देना होगा।'' उनसठ वर्षीय सिंह ने बुधवार को थल सेनाध्यक्ष का कार्यभार संभाला था। वह 62 वर्ष की आयु तक इस पद पर रहेंगे।

भारत के खिलाफ चीन के खतरे के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ''मैं आपका भरोसा दिला सकता हूं कि अपने खिलाफ किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए हम तैयार हैं। यह तैयारी सतत चलने वाली प्रक्रिया है। हम अपने प्रशिक्षण को ज्यादा व्यावहारिक बना रहे हैं।''

गौरतलब है कि नए सेना प्रमुक के पास उग्रवाद विरोधी कार्रवाई का लंबा अनुभव है। राजपूत रेजीमेंट से आने वाले सिंह ने वेलिंग्टन स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज के साथ कार्लिस्ले स्थित यूएस आर्मी वार कॉलेज से स्नातक किया। उन्होंने अमेरिका में फोर्ट बेन्निंग से रैंजर्स कोर्स किया। वह जून 1970 में सेना में शामिल हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्टाचार रोकने के लिए करेंगे आंतरिक सुधारः नए सेना प्रमुख