DA Image
1 अप्रैल, 2020|1:13|IST

अगली स्टोरी

आईआईएम़-आई में सीटें दोगुनी होंगी, फीस नहीं बढ़ेगी

इंदौर के भारतीय प्रबंधन संस्थान का कहना है कि वह अगले अकादमिक सत्र से अपने प्रमुख पाठयक्रम में सीटों की संख्या को लगभग दोगुनी करने जा रहा है, लेकिन इसकी तय फीस में बढ़ोतरी की फिलहाल कोई संभावना नहीं है।

आईआईएम़-आई के निदेशक डॉ़ एऩ रविचंद्रन ने बताया कि हम पोस्ट ग्रैजुएट प्रोग्राम के 2010.12 बैच के लिये पांच लाख रुपये की सालाना फीस तय कर चुके हैं और यह इसी स्तर पर रहेगी। हम तय फीस बढ़ाने को लेकर फिलहाल विचार नहीं कर रहे हैं।

यानी आईआईएम़-आई के इस दो वर्षीय पाठ्यक्रम में दाखिला पाने वाले विद्यार्थी को फीस के रूप में संस्थान के खाते में कुल दस लाख रुपये जमा करने होंगे।

रविचंद्रन के मुताबिक अगले अकादमिक सत्र से पीजीपी में सीटों की संख्या को बढ़ाकर 450 कर दिया जायेगा। पिछले सत्र में इस पाठयक्रम में 240 सीटें थीं।

बहरहाल, आईआईएम़-आई निदेशक ने बताया कि संस्थान ने एक्जीक्यूटिव पोस्ट ग्रैजुएट प्रोग्राम के फीस ढांचे में मामूली बदलाव किया है।

उन्होंने हालांकि इस बदलाव के बारे में ज्यादा जानकारी देने से बचते हुए कहा कि भारतीय नागरिकों के लिये ईपीजीपी की फीस मोटे तौर पर करीब 18 लाख रुपये रहेगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:आईआईएम़-आई में सीटें दोगुनी होंगी, फीस नहीं बढ़ेगी