DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास यात्रा में आश्वासनों की रवड़ियां बांटी जा रहीं

राजद ने कहा है कि मुख्यमंत्री की विकास यात्रा में शिलान्यास के शिलापट्ट लगाने के साथ ही घोषणाओं एवं आश्वासनों की रवड़ियां बांटी जा रही है। विकास यात्रा के नाम पर हर जिले में चुनाव कोष संग्रहित किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री बनने के बाद नीतीश कुमार 3835 घोषणाएं कर चुके हैं पर उनका क्रियान्वयन शून्य है। राजद के राष्ट्रीय महासचिव सह प्रवक्ता एवं प्रांतीय महासचिव निहोरा प्रसाद यादव ने कहा है कि मुख्यमंत्री यह जानते हुए कि दस दिन बाद आचार संहिता लग जाएगी और कार्य नहीं होंगे, अपने कंधे पर शिलान्यास के शिलापट्ट लेकर घूम रहे हैं।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि विकास यात्रा में जिस प्रकार सरकार के खिलाफ असंतोष उभर कर सामने आया है, वह सरकार को समाप्त कर देगा। जनता भी यह समझने लगी है कि विकास यात्रा का पड़ाव उसी क्षेत्र में रहता है जहां गरीब जनता को बोलने की हिम्मत नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार अपनी पहले की घोषणाओं का हश्र बताये, तब नयी घोषणाएं कर। चीनी मिलों का जाल बिछेगा, बिहार बिजली में आत्मनिर्भर होगा, सभी गांवों में पेयजल की व्यवस्था होगी, स्लम इलाकों में एक लाख मकान बनेंगे, गरीबों को हेल्थ कार्ड मिलेंगे, बिहारी मजदूरों के लिए सेल बनेंगे, बिहारियों को विदेश में नौकरी मिलेगी, पैदा होते ही बेटियों के लिए फिक्स डिपोजिट होगा समेत सरकार की कई महत्वपूर्ण घोषणाओं का क्रियान्वयन नहीं हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विकास यात्रा में आश्वासनों की रवड़ियां बांटी जा रहीं