अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पान को मिले कृषि का दर्जा

संपूर्ण बिहार चौरसिया छात्र कल्याण परिषद द्वारा स्थानीय रामजयपाल कालेज में रविवार को आयोजित प्रांतीय चौरसिया महासम्मेलन में पान के उत्पादन को कृषि का दर्जा दिये जाने की मांग की गयी। वक्ताओं ने कहा कि क्षति होने पर किसानों को फसल बीमा का लाभ मिल सकेगा। अध्यक्षता पूर्व कुलपति डा. हरिहर भक्त ने की। उद्घाटन परिषद के वरिष्ठ संरक्षक अवंतीलाल ने किया।ड्ढr मुख्य अतिथि रल मंत्री लालू प्रसाद ने कहा कि पारंपरिक पेशे को छोड़े बिना चौरसिया समाज के लोग विकास और रोजगार के अन्य अवसरों का लाभ लें।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि पान की ढुलाई के लिए यदि स्थान सुनिश्चित किया जाए तो वहां रल सेवा उपलब्ध करायी जायेगी। सामाजिक तौर पर उन्नति करने का उपाय सुझाते हुए श्री प्रसाद ने कहा कि बच्चे-बच्चियों को पढ़ाने में कोताही मत करं। बिना तिलक-दहेज के शादी-ब्याह करं। हर कोई आपकी मदद करगा। मुख्य वक्ता व विधान परिषद में उपनेता भाजपा के गंगा प्रसाद ने कहा कि लोकसभा या विधानसभा में हिस्सेदारी की बात करने से अच्छा है कि चुनाव के हर निकायों पर हमारी नजर हो। हम हर क्षेत्र में नेतृत्व करं। राजनीतिक चेतना जागृत करं और समाज का जो भला कर, उसे वोट दें। व्यक्ितगत नहीं सामाजिक लाभ के लिए सोचें। विशिष्ट अतिथि नेपाल के सांसद व पूर्व मंत्री अजय चौरसिया ने एकजुट होकर विकास करने की अपील की।ड्ढr ड्ढr संयोजक रामएकबाल प्रसाद चौरसिया ने कहा कि पान की खेती को कृषि का दर्जा मिल जायेगा तो उत्पादन में स्थायित्व आयेगा। रघुनाथ प्रसाद, डा. दिनेश कुमार, डा. जयनारायण तिवारी, अशोक चौरसिया, संजय कुमार,पूर्णिया के जिला बोर्ड की अध्यक्ष वीणा देवी, डा. फूलेन्द्र भगत आदि ने विचार रखे। संचालन सह संयोजक रवि कुमार चौरसिया ने किया। संयोजक रामएकबाल प्रसाद ने कहा कि निर्धन व मेधावी विद्यार्थियों को समाज की ओर से हरसंभव आर्थिक सहायता परिषद की ओर से की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पान को मिले कृषि का दर्जा