एक लाख पाँच हजार परीक्षक जाँचेंगे कॉपियाँ - एक लाख पाँच हजार परीक्षक जाँचेंगे कॉपियाँ DA Image
19 नबम्बर, 2019|10:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक लाख पाँच हजार परीक्षक जाँचेंगे कॉपियाँ

यूपी बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन इस बार एक लाख पाँच हजार परीक्षक करेंगे। उनकी केन्द्रवार तैनाती का खाका तैयार हो रहा है। वाराणसी क्षेत्रीय कार्यालय में सबसे ज्यादा 35 हजार परीक्षक मूल्यांकन में लगेंगे।

इलाहाबाद कार्यालय के जिलों में 30 हजार, मेरठ में 25 हजार और बरेली क्षेत्रीय कार्यालय के जिलों में 15 हजार परीक्षक कापियां जांचेंगे। इन परीक्षकों की डय़ूटी अप्रैल के पहले हफ्ते से लगने लगेगी। उनका परिचय पत्र (आईकार्ड) संबंधित जिला विद्यालय निरीक्षकों के यहाँ मार्च के अन्तिम हफ्ते तक पहुँच जाएगा। 

इलाहाबाद क्षेत्रीय कार्यालय के अपर सचिव डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया कि यूपी बोर्ड की परीक्षाएँ 10 अप्रैल तक होंगी। उसके बाद निरस्त परीक्षाएँ होनी हैं। मूल्यांकन की तैयारियाँ शुरू हैं लेकिन अभी मूल्यांकन की तिथि निश्चित नहीं हुई हैं। छोटे जिलों में तीन से पाँच और बड़े जिलों में छह मूल्यांकन केन्द्र बनेंगे। मूल्यांकन जीआईसी-जीजीआईसी और मान्यता प्राप्त इण्टर कॉलेजों में होगा। जांची गई उत्तर पुस्तिकाओं की रैण्डम चेकिंग उप प्रधान परीक्षक करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक लाख पाँच हजार परीक्षक जाँचेंगे कॉपियाँ