इलाहाबाद में केन्द्र व्यवस्थापक की पिटाई पर बवाल - इलाहाबाद में केन्द्र व्यवस्थापक की पिटाई पर बवाल DA Image
10 दिसंबर, 2019|4:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इलाहाबाद में केन्द्र व्यवस्थापक की पिटाई पर बवाल

यूपी बोर्ड की गुरुवार को हुई दोनों पालियों की परीक्षाओं के दौरान दौरान इलाहाबाद, कौशाम्बी सहित दजर्नभर जिलों में नकल को लेकर बवाल हुआ। इलाहाबाद के गंगापार के एक इण्टर कॉलेज में एसडीएम और तहसीलदार को फूलपुर के परीक्षार्थियों ने बंधक बना लिया जबकि कौशाम्बी, गाजीपुर, वाराणसी, लखनऊ सहित दजर्न भर जिलों के 36 सेण्टरों पर भी  बवाल हुआ।

इन सेण्टरों के परीक्षा निरस्त करने की संस्तुति हुई है। परीक्षा के दौरान आज दोनों पालियों में 520 नकलची पकड़े गये। इनमें सबसे ज्यादा 86 अलीगढ़ मण्डल में तो सबसे कम दो नकलची कानपुर मण्डल में पकड़े गये। इलाहाबाद मण्डल में कुल 88 नकलची पकड़े गये इनमें 50 कौशाम्बी जिले के है। कौशाम्बी साहित सात जिलों के एक-एक सेण्टर पर सामूहिक नकल मिलने पर प्रधानाचार्य के खिलाफ एफआईआर हुई हैं, जबकि दो कक्ष निरीक्षक हटाये गये है।

फूलपुर / सहसों संवाददाता के अनुसार इलाहाबाद के गंगापार स्थित चन्द्रशेखर आजाद इण्टर कॉलेज पर हाईस्कूल की पहली पाली में विज्ञान द्वितीय प्रश्नपत्र की परीक्षा के दौरान गेट बन्द था। परीक्षा खत्म होने के  पाँच मिनट पहले एसडीएम फू लपुर बी.चन्द्रकला और तहसीलदार राजनरायण मिश्र सेण्टर पर निरीक्षण के लिए अचानक पहुँच गये।

मुख्य द्वार का गेट बन्द होने पर वह लोग केन्द्र व्यवस्थापक राममूर्ति पटेल पर भड़क गये। इसी बीच परीक्षार्थी कापियाँ जमा करने लगे।गुस्से में एसडीएम के निर्देश पर सुरक्षा कर्मियों ने केन्द्र व्यवस्थापक की पिटाई कर दी। 

शोर सुनकर कक्ष निरीक्षक और परीक्षार्थी भी आ गये। परीक्षार्थियों ने पथराव शुरू कर दिया। सुरक्षा कर्मियों ने एसडीएम और तहसीलदार को किसी तरह से एक कमरे में ले जाकर बचाया। यह बवाल करीब दो घण्टे तक चलता रहा। इस दौरान दोनों अधिकारी एक कमरे में बंधक बने रहे।  मामले की जानकारी मिलने पर पहुँचे एडीएम वित्त एवं राजस्व और एसपी गंगापार ने परीक्षार्थियों को समझाकर बवाल शान्त किया। तब जाकर एसडीएम और तहसीलदार छूटे।

एसडीएम ने इस सेण्टर की परीक्षा निरस्त करने की संस्तुति की है। जबकि डीआईओएस दिनेश सिंह का कहना है कि परीक्षा खत्म होने के  बाद विवाद हुआ हैं। ऐसे में परीक्षा निरस्त नहीं होगी। राजकीय इण्टर कॉलेज के प्रधानाचार्य संदीप चौधरी ने हण्डिया क्षेत्र के चार सेण्टरों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान डीपी इण्टर कॉलेज में सामूहिक नकल मिलने पर दोनों पालियों के परीक्षा को निरस्त करने की संस्तुति की है।

इन सेण्टरों से 10 नकलची पकड़े गये है। इसी प्रकार से गाजीपुर, कौशाम्बी, कन्नौज, आगरा, कानपुर नगर-देहात, इटावा, बलिया, आजमगढ़, गोरखपुर, वाराणसी, लखनऊ, जौनपुर, मथुरा, मुजफ्फरनगर और फैजाबाद जिलों के  दो-दो सेण्टरों पर सामूहिक नकल मिलने पर यहाँ की परीक्षाएँ निरस्त करने की संस्तुति की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इलाहाबाद में केन्द्र व्यवस्थापक की पिटाई पर बवाल