गर्भवती शिक्षिका की मौत पर बवाल - गर्भवती शिक्षिका की मौत पर बवाल DA Image
14 दिसंबर, 2019|2:06|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्भवती शिक्षिका की मौत पर बवाल


प्रसव के दौरान शिक्षिका की मौत होने पर परिजनों ने चिकित्सक दंपति की धुनाई लगा दी। उन्होंने नर्सिग होम में भी जमकर तोड़फोड़ की। उन्होंने महिला चिकित्सक के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी है। चिकित्सक दंपति भी पुलिस से मिला। नगर के चिकित्सकों ने मारपीट व तोड़फोड़ की कड़ी निंदा की है।

सोमवार को ग्राम आसपुर निवासी ब्रजपाल ने अपनी पत्नी बागेश्वर में शिक्षिका के पद पर तैनात दीपिका को प्रसव पीड़ा होने पर ठाकुरद्वारा रोड स्थित किलकारी नर्सिगहोम में भर्ती कराया था। रात को करीब 11 बजे दीपिका की डिलीवरी कराई गई। कुछ देर बाद ही महिला की मौत हो गई। मृतका का मंगलवार को दाह संस्कार कर दिया गया। बताते हैं कि मृतका के चिकित्सक भाई विवेक कुमार ने चमोली से आकर मामले की पड़ताल की तो इलाज में लापरवाही का मामला सामने आया।

इससे दीपिका के परिजन गुस्से से भर उठे। गुरुवार को उन्होंने करीब तीन दजर्न लोगों के साथ नर्सिगहोम पर धावा बोल दिया। डा.मुकेश गुप्ता ने आईएमए के अध्यक्ष डा. आरके सर्राफ समेत राजीव चौहान, अनूप कुमार, धीरेंद्र गहलौत आदि मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने परिजनों को समझाने की कोशिश की, लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी। परिजनों ने डा.नीलिमा अग्रवाल से इलाज के दौरान प्रयोग की गई दवा के पर्चे मांगे तो वह पर्चे देने में आनाकानी करने लगीं। इस पर वह और भड़क गए। आरोप है कि उन्होंने हमला बोल कर चिकित्सक दंपति की लात-घूसों से जमकर धुनाई लगा दी।

नर्सिगहोम पर भी जमकर तोड़फोड़ की। कुछ ने तो महिला चिकित्सक के बाल खींच कर घसीट दिया। इस दौरान स्टाफ ने इधर-उधर छिप कर अपने को बचाया। मृतका के ससुर रघुवीर सिंह ने कोतवाली मे तहरीर देकर महिला चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उधर चिकित्सक दंपति ने नर्सिग होम में हमला कर तोड़फोड़ करने की तहरीर पुलिस को दी है। खबर लिखे जाने तक रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी थी। नगर के चिकित्सकों ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गर्भवती शिक्षिका की मौत पर बवाल