गडकरी पर शॉटगन ने तानी बंदूक,कहा पुरानी-बोतल व नई शराब - भाजपा अध्यक्ष गडकरी की टीम पुरानी बोतल में पुरानी शराब:शॉटगन DA Image
22 नवंबर, 2019|3:08|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा अध्यक्ष गडकरी की टीम पुरानी बोतल में पुरानी शराब:शॉटगन

भाजपा अध्यक्ष गडकरी की टीम पुरानी बोतल में पुरानी शराब:शॉटगन

भाजपा नेता शत्रुध्न सिन्हा ने पार्टी अध्यक्ष नितिन गडकरी की दो दिन पहले घोषित पदाधिकारियों की टीम के संयोजन को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उसे कहीं पुरानी बोतल में नयी शराब तो कहीं पुरानी बोतल में पुरानी शराब जैसा करार दिया है।

भाजपा के किसी नेता की ओर से टीम गडकरी की पहली सार्वजनिक आलोचना करने वाले शाटगन के नाम से मशहूर सिन्हा ने कहा कि कुछ सबसे काबिल लोगों को बहुप्रतिक्षित टीम से बाहर रखा गया है।

गडकरी की ओर से कथित उपेक्षा से नाखुश बिहारी बाबू ने कहा कि यह टीम पुरानी बोतल में नयी शराब की तरह है और अगर इसमें पार्टी के संसदीय बोर्ड जैसे निकायों को शामिल किया जाये तो यह पुरानी बोतल में पुरानी ही शराब होने जैसा है।

सिन्हा ने कहा कि मैंने हमेशा गडकरी को छोटे भाई और मित्र की तरह माना है। इसके बावजूद, निजी तौर पर कहूं तो नयी टीम का संयोजन दुर्भाग्यपूर्ण है और मैं कुछ नाखुश हूं। उन्होंने हालांकि, इस बात का खंडन किया कि वह पार्टी में किसी पद के दावेदार थे।

उन्होंने कहा कि वह यह महसूस करते हैं कि इस वर्ष अक्तूबर में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को टीम में शामिल किया जाना चाहिये था।

सिन्हा ने दावा किया कि उनकी मित्र और लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज तथा अन्य अहम और शीर्ष नेताओं से सलाह़-मशविरा किये बगैर यह टीम बनायी गयी है।

   नयी टीम की घोषणा के बाद कुछ नेताओं के असहज होने की खबरों के बीच सिन्हा ने किसी का नाम लिये बिना कहा कि जिन लोगों को शामिल किया गया, उनमें से कुछ को टाला जा सकता था।

उन्होंने कहा कि निकट भविष्य में बिहार विधानसभा चुनाव पार्टी के लिये काफी अहम हैं और इसके बाद भी यशवंत सिन्हा जैसे काबिल नेता को टीम से बाहर रखा गया है। कुछ योग्य लोगों की जगह पर ऐसे लोगों को टीम में लिया गया है, जिन्हें छोड़ा जा सकता था।

सिन्हा ने कहा कि एक वरिष्ठ और परिपक्व नेता होने के नाते मैं कोई भी अवांछनीय टिप्पणी कर पार्टी का अनुशासन नहीं तोड़ना चाहता लेकिन मैं निश्चित तौर पर चिंतित हूं और टीम के संयोजन से कुछ हद तक नाखुश भी हूं।

पार्टी के सूत्रों ने कहा कि सिन्हा रविशंकर प्रसाद की महासचिव पद पर नियुक्ति से नाखुश हैं। सूत्रों ने कहा कि पिछले कुछ विधानसभा चुनावों और आम चुनावों में पार्टी के स्टार प्रचारक रहे सिन्हा बिहार के चुनाव में अपने लिये बड़ी भूमिका चाहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गडकरी पर शॉटगन ने तानी बंदूक,कहा पुरानी-बोतल व नई शराब