भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने पर विवाद - भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने पर विवाद DA Image
17 नबम्बर, 2019|8:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने पर विवाद

भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने पर विवाद

ब्रिटेन में एक कंप्यूटर कंपनी द्वारा नौकरी के लिए भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता दिए जाने से विवाद खड़ा हो गया है।

ब्रिटिश समाचार पत्र 'डेली एक्सप्रेस' ने गुरुवार को इस संबंध में खबर प्रकाशित की है। समाचार पत्र के अनुसार ब्रिस्टल स्थित टॉरी हैरिस नामक कंपनी ने एक नौकरी के लिए विज्ञापन प्रकाशित किया था, जिसमें भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने की बात कही गई थी।

विज्ञापन के विरोध में लोगों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों के अनुसार यह ब्रिटिश विरोधी कदम है। कंपनी ने कहा था कि 38,000 पाउंड सलाना वेतन वाले पद के लिए ऐसे व्यक्ति की आवश्कता है, जिसे सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में छह वर्षों का अनुभव हो। इसके अलावा वह ब्रिटेन का नागरिक हो, खासकर भारतीय मूल के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी।

टॉरी हैरिस का कार्यालय भारतीय शहर बेंगलुरु में भी है। सांसद डेविड डेविस ने कंपनी के विज्ञापन को नस्लीय करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय मूल के आवेदकों को प्राथमिकता देने पर विवाद