छिन रहा शिक्षा का मौलिक अधिकार - छिन रहा शिक्षा का मौलिक अधिकार DA Image
17 नबम्बर, 2019|7:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छिन रहा शिक्षा का मौलिक अधिकार

शिक्षा के मौलिक अधिकार पर आयोजित गोष्ठी  में शिक्षा के सरोकारों पर पहल का स्वागत किया गया। कहा कि शिक्षा विधेयक बच्चों को शिक्षा का अधिकार देता नहीं बल्कि मौलिक अधिकार को छीनता है। 24 मार्च को दिल्ली संसद कूच का निर्णय लिया गया।

मुख्य अतिथि शिक्षक संघ के प्रांतीय प्रवक्ता नवेंदु मठपाल ने कहा कि रचानात्मक शिक्षक मंडल शिक्षकों की सृजनशीलता को जनपक्षीय आयाम देगा। कहा कि सभी मुद्दों पर बहस की जरूरत है। संसद में पारित बच्चों के लिए मुफ्त शिक्षा और अनिवार्य शिक्षा विधेयक 2008, अप्रैल 2010 में लागू होने जा रहा है। इस विधेयक से बच्चों को शिक्षा का अधिकार नहीं वरन सुप्रीम कोर्ट के 1993 से मिले मौलिक अधिकार छिन जाएगा। कहा कि कमजोर बच्चों को 25 प्रतिशत तक मुफ्त शिक्षा देने के बहाने सरकारी स्कूली व्यवस्था को खत्म करने जा रही है।

संयोजक शैलेंद्र धपोला ने बताया कि गोष्ठी में गैर सरकारी स्तर पर रचनात्मक शिक्षक मंडल ने राज्यभर में शिक्षा के सरोकारों पर पहल का स्वागत किया। गोष्ठी में वक्ताओं ने शिक्षा में सभी तरह की गैर बराबरी खत्म करने और सभी तरह की विविधाएं शामिल करने की पुरजोर मांग की। कहा गया कि निजी स्कूलों समेत सभी स्कूलों में अधो संरचना के मापदंड बनें। इस मौके पर नंदा बल्लभ भट्ट, दीप चंद्र जोशी, दीवान सिंह दानू, बलवंत कालाकोटी, केएस रावत, डा सीएम जोशी, कैलाश अंडोला, राजीव निगम आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छिन रहा शिक्षा का मौलिक अधिकार