अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजरंग

तुम चौदह, तो हम भी..ड्ढr तुम चौदह पर लड़ोगे, तो हम काहे पीछे रहेंगे। हम भी चौदह पर लड़ेंगे। इलेक्शन अभी आया नहीं है, लेकिन शुरू हो गया ताल ठौंकव्वल समारोह। इ इलेक्शन ड्रामा खूबे चलेगा। हर दल अपनी ताकत को ज्यादा और सामनेवाले की कम करके आंकता है। पंजा और तीर-धनुष का यह खेल ज्यादा दिन नय चलेगा। काहे कि इ लोग जानता है कि जहां चौदह-चौदह की बात शुरू हुई, वहीं अठाइस की बजाय जीरो में आकर खेल थम जायेगा। इ बतवा दुनो तरफ के लोगों को पता है, लेकिन मुंह जबानी लड़ने में का दिक्कत है। जब कैंडिडेट देने की बारी आयेगी, तभे असली बात होगी। का है कि सरकार नहीं बनने से परशान तो है लोग। सबसे बेसी परशानी तीर-धनुष कंपनी के लोगों को है। दिल्ली जाओ-दिल्ली आओ के चक्कर में कहीं के नहीं रहा लोग। इसलिए खीस निकालने के लिए बोल दिया-चौदह पर लड़ेंगे। लड़ेंगे तो छितरायेंगे भी। है कि नहीं ?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजरंग