आजमाएं अपनी मैथमेटिकल स्किल को - आजमाएं अपनी मैथमेटिकल स्किल को DA Image
21 नबम्बर, 2019|5:07|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमाएं अपनी मैथमेटिकल स्किल को

आजमाएं अपनी मैथमेटिकल स्किल को

मंदी के बाद यह वर्ष नौकरियों के लिए काफी महत्त्वपूर्ण साबित हो रहा है। सभी सेक्टर्स में नई भर्तियों की शुरुआत हो चुकी है। एसएसटी, जो अनेक महत्त्वपूर्ण पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित करता है, टैक्स असिस्टेंट पद के लिए आवेदन आमंत्रित कर रहा है। जो उम्मीदवार टैक्स के क्षेत्र में अपना करियर फिक्स करना चाहते हैं, उनके लिए यह बेहतर मौका है।

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) द्वारा कई महत्त्वपूर्ण पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। अन्य पदों की भांति एसएससी इस वर्ष टैक्स असिस्टेंट (कर सहायक) के लिए भी रिक्तियां घोषित की हैं, जो कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (सीबीडीटी) एवं सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज  एंड कस्टम (सीबीईसी) के अंतर्गत आते हैं। इस वर्ष जारी नोटिफिकेशन में रिक्तियों की एक बड़ी संख्या है। संबंधित उम्मीदवारों  के लिए यह एक अच्छा अवसर है।

ग्रेजुएट होना आवश्यक

इस परीक्षा के लिए फार्म तभी भरा जा सकता है, जब छात्र किसी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय अथवा संस्थान से ग्रेजुएट हों। इसमें कम्प्यूटर ज्ञान भी रखा गया है। इसके तहत छात्र को 8000 की-डिप्रेशंस डाटा एंट्री की गति होनी चाहिए। साथ ही उनकी उम्र 20-27 वर्ष के बीच होनी आवश्यक है।

एग्जाम स्ट्रक्चर
 
टैक्स असिस्टेंट के लिए परीक्षा दो चरणों में आयोजित की जाती है:
-लिखित परीक्षा एवं कौशल परीक्षा
-लिखित परीक्षा

प्रथम प्रश्न पत्र (सामान्य अध्ययन) - सामान्य अध्ययन की परीक्षा 200 अंकों की होती है तथा इसके दो पार्ट सामान्य अंग्रेजी एवं सामान्य जानकारी के होते हैं। दो घंटे के इस प्रश्न पत्र में जहां सामान्य इंग्लिश का मकसद छात्र की इंग्लिश भाषा की समस्त ज्ञान का परीक्षण होता है, वहीं सामान्य ज्ञान के अंतर्गत भारतीय संविधान, भारतीय राजनीति, कम्प्यूटर से जुड़ी जानकारी, साइंटिफिक रिसर्च, साइकोलॉजिकल विषयों के प्रश्न आते हैं। सभी प्रश्न आब्जेक्टिव नेचर के होते हैं।

द्वितीय प्रश्न पत्र (अंक गणित) : इसमें डिस्क्रिप्टिव नेचर के प्रश्न होते हैं तथा इसके लिए 100 अंक निर्धारित किये गए हैं। दो घंटे के इस पेपर में छात्र से संख्या प्रणाली से संबंधित, दशमलव भिन्न, संख्याओं के बीच परस्पर संबंध, प्रतिशतता, अनुपात तथा समानुपात, औसत, लाभ-हानि, सारणी व ग्राफ का प्रयोग, समय और दूरी आदि पर प्रश्न पूछे जाते हैं।

कौशल परीक्षा

यह केवल क्वालिफाइंग नेचर की परीक्षा होती है। लिखित परीक्षा में सफल होने के पश्चात छात्र को इसमें बैठने की अनुमति दी जाती है। आमतौर पर इसमें छात्र की किसी कम्प्यूटर पर 8000 की-डिप्रेशन की गति मापी जाती है। इसके  लिए अलग से किसी एजेंसी का सहारा लिया जाता है।

कैसे करें तैयारी

किसी भी परीक्षा में सफलता की बुनियाद उसकी तैयारी के आधार पर ही रखी जाती है। इस परीक्षा की तैयारी से संबंधित कुछ टिप्स निम्न हैं :

सामान्य इंग्लिश : इस भाग पर मजबूती के लिए अंग्रेजी के न्यूज पेपर एवं पुस्तकों को पढ़ने की आदत विकसित करें तथा उनके शब्दों को प्रयोग में लाएं। पर्यायवाची, मुहावरे, विलोम, वाक्य प्रयोग, खाली स्थान को भरना जैसे सवालों पर भी ध्यान दें।

सामान्य ज्ञान : प्रतिदिन की हलचलों से अवगत होने के साथ-साथ 12वीं की एनसीईआरटी की पुस्तकों का सहारा लें। करेंट अफेयर्स को मजबूत बनाने के लिए सामान्य ज्ञान वार्षिकी का भी सहारा ले सकते हैं अर्थात हर समय खुद को अपडेट रखें।

गणित : मुख्यत: इस भाग के अंतर्गत आने वाले प्रश्न दसवीं स्तर के ही होते हैं, इसलिए छात्र उनका सही तरीके से अभ्यास कर लें। फॉमरूलों का प्रयोग करने से लेकर प्रश्नों को हल करने की दक्षता इस भाग में सफलता दिला सकती है।

कंप्यूटर नॉलेज : कम्प्यूटर पर डाटा एंट्री करने का ज्ञान हासिल करने के लिए किसी कंप्यूटर सेंटर से एक या दो माह का कोर्स कर लें। आगे के लिए भी यह काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इस क्रम में की-डिप्रेशन सरीखा कार्य सीखें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आजमाएं अपनी मैथमेटिकल स्किल को