DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस ने पौधों को किया नष्ट, दो की खोज जारी

चतरा, हाारीबाग और पलामू के बाद अब राजधानी रांची एवं आसपास के इलाके में भी पोस्ते की खेती की जा रही है। नशे के धंधे में शामिल लोगों के लिए अब रांची पोस्ते की खेती के लिए महफू ज है। अंदेशा जताया गया है कि पोस्ते से अफीम की पैदावर के लिए संगठित गिरोह ने कुछ अन्य स्थान पर भी किसानों को इसके लिए तैयार कर लिया है। पोस्ते की खेती की जानकारी रविवार को नामकुम पुलिस को उस समय हुई, जब हहाप पंचायत के उलीडीह गांव में टीम ने छापामारी की। छापामारी के क्र म में पुलिस टीम ने डोमन मुंडा के खेत में लगाये गये एवं तैयार पोस्ते के पौधे को नष्ट कर दिया। डोमन के साथ उसी गांव का कोलाय टूटी भी पोस्ते की खेती में शामिल था। डोमन की एक डिसमील में लहलहा रहे पौधों में फूल के साथ बाली भी उग आयी थी। पूछताछ के क्रम में पता चला कि इससे पूर्व भी वहां इसकी खेती की जाती थी, लेकिन अन्य ग्रामीणों को इस पौधे के संबंध में जानकारी नहीं थी। छापामारी में नामकुम के प्रभारी थानेदार प्रशिक्षु एएसपी माइकल राज एल, नामकुम बीडीओ सह दंड़ाधिकारी उमाशंकर प्रसाद एवं पुलिस टीम शामिल थी। इस संबंध में डोमन एवं कोलाय के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। इधर पोस्ते की खेती की जानकारी मिलने के बाद रांची पुलिस के कान खड़े हो गये हैं। राजधानी के आसपास के इलाकों में स्थित थानों को इस संबंध में विशेष नजर रखने का आदेश अधिकारियों की ओर से दिया गया है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पुलिस ने पौधों को किया नष्ट, दो की खोज जारी