आवास विकास की ईडब्ल्यूएस स्कीम लटकी - आवास विकास की ईडब्ल्यूएस स्कीम लटकी DA Image
14 नबम्बर, 2019|7:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आवास विकास की ईडब्ल्यूएस स्कीम लटकी

आवास विकास परिषद की ईडब्ल्यूएस फ्लेटों की स्कीम लटक गई है। स्कीम में आवेदन करने वाले लोग जांच के फंदे में फंस गए हैं। आवास अफसरों को शक है कि बड़ी संख्या में लोगों ने गलत आय प्रमाण पत्र लगाए हैं। परिषद प्रशासन के अलावा आयकर विभाग से भी इन आय प्रमाण पत्रों की जांच कराने की तैयारी कर रही है। इससे योजना का ड्रा लटक गया है।


आवास एवं विकास परिषद ने काफी सोच-विचार के बाद दिल्ली-बुलंदशहर मार्ग बाईपास योजना में अक्तूबर 2009 में ईडब्ल्यूएस स्कीम लांच की। इसके लिए पचास हजार रुपए वार्षिक आय वाले लोगों को आवेदन करने का पात्र बताया। आवास विकास ने कम आवेदन आने पर तीन बार स्कीम की मियाद भी बढ़ाई। काफी मशक्कत के बाद 1950 फ्लेटों के लिए 8083 लोगों ने आवेदन पत्र भरे। लेकिन इन आवेदन पत्रों पर आवास विकास के अफसरों की निगाहें टेढ़ी हो गई है। अफसरों का कहना है कि करीब आधे आवेदन पत्रों में लोगों ने गलत आय प्रमाण पत्र बनवाकर लगाए हुए हैं। लोगों ने कोट-टाई वाले फोटो आवेदन पत्रों में लगाए हुए हैं, साथ ही 50 हजार रुपए वार्षिक इनकम के सर्टिफिकेट लगाए हुए हैं। इससे गलत प्रमाण पत्र लगाए जाने की आशंका है। ऐसे में इन आय प्रमाण पत्रों की जांच के बाद ही ड्रा की कार्रवाई होगी। अफसरों को आशंका है कि आय प्रमाण पत्रों की जांच के बिना ड्रा कराने से स्कीम लटक सकती है। ड्रा के बाद आवेदन निरस्त होने से लोग कोर्ट का सहारा ले सकते हैं। विवादों की आशंका को देखते हुए अफसरों ने मार्च में होने वाले ड्रा को टाल दिया है और आय प्रमाण पत्रों की जांच कराने का फैसला किया है। इसके लिए प्रशासन और आयकर विभाग की भी सहायता ली जाएगी। अधिकारियों ने बताया कि लोगों ने शपथ पत्र देकर अपने आय प्रमाण पत्र बनवाए हुए हैं। जांच में प्रमाण पत्र गलत पाए जाने पर आवेदकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इससे आवास विकास की ईडब्ल्यूएस स्कीम लटक गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आवास विकास की ईडब्ल्यूएस स्कीम लटकी