स्वर्ण के लिए भिड़ेंगे छह भारतीय मुक्केबाज - स्वर्ण के लिए भिड़ेंगे छह भारतीय मुक्केबाज DA Image
11 दिसंबर, 2019|5:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वर्ण के लिए भिड़ेंगे छह भारतीय मुक्केबाज

स्वर्ण के लिए भिड़ेंगे छह भारतीय मुक्केबाज

एशियाई चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता जय भगवान (60 किग्रा) और पंजाब के अमनदीप (49 किग्रा) ने मंगलवार को पांचवीं राष्ट्रमंडल मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह बनाई, जिससे भारत के छह मुक्केबाज कल स्वर्ण पदक के लिए रिंग में उतरेंगे।

इन दोनों के अलावा भारत के ओलंपिक कांस्य पदकधारी विजेंदर सिंह (75 किग्रा), एशियाई चैम्पियन सुंरजय सिंह (52 किग्रा), दिनेश कुमार (81 किग्रा) और परमजीत समोटा (91 किग्रा से अधिक) भी पहले स्थान के लिए भिड़ेंगे।

भारत ने 2005 में स्काटलैंड में हुई राष्ट्रमंडल टीम चैम्पियनशिप में चार स्वर्ण और तीन रजत जीते थे लेकिन वह 2007 में एक स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक हासिल कर उप विजेता रहा था।

अमनदीप ने लाइट फ्लाईवेट के सेमीफाइनल में मलेशिया के एम एफ बी एम रेडजुआन को एकतरफा मुकाबले में 7-1 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया और जय भगवान को लाइटवेट वर्ग के अंतिम चार की अपनी बाउट में वाकओवर मिला क्योंकि इंग्लैंड के डैनी फिलिप्स की तबीयत ठीक नहीं थी।

बुधवार को फाइनल में अमनदीप का सामना कीनिया के पीटर मुंगाई से होगा जिन्होंने आज बोत्सवाना के बथुसी मोगाजाने को 7-0 से परास्त किया जबकि जय भगवान बहामा के वेलेंटियन नोवेल्स से भिड़ेंगे।

भारत के अनुभवी मुक्केबाज अखिल कुमार को 56 किग्रा बैंथमवेट में परास्त करने वाले इंग्लैंड के इयान वीवर ने मारीशस के ब्रुनो जूली को 12-3 से हराकर फाइनल में जगह बनाई और अब वह श्रीलंका के एम डी के वानियाराच्चि के खिलाफ उतरेंगे।

भारतीय कोच जीएस संधू ने छह मुक्केबाजों के फाइनल में पंहुचने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि मुक्केबाजों के प्रदर्शन से मैं खुश हूं, लेकिन हमें यहां अपनी कमियों का भी पता चला जो अक्टूबर में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियों के लिए काफी जरूरी था।
 
अमनदीप ने पहले राउंड में रेडजुआन के मुंह पर करारा पंच मारकर दो अंक हासिल किये और वह 3-0 से बढ़त बनाए थे, लेकिन दूसरे राउंड में वह एक भी अंक स्कोर नहीं कर सके। तीसरे राउंड में उन्होंने आक्रामकता दिखाते हुए तीन अंक प्राप्त किए लेकिन इसमें विपक्षी मुक्केबाज ने भी एक पंच से अंक जुटाया। रेडजुआन पर अमनदीप को लगातार कोहनी से रोकने के कारण चेतावनी दी गई जिससे भारतीय मुक्केबाज को दो अंक मिले और वह फाइनल में पहुंचने में सफल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वर्ण के लिए भिड़ेंगे छह भारतीय मुक्केबाज