‘खुशियों का खजाना’ लगाया लाखों का चूना - ‘खुशियों का खजाना’ लगाया लाखों का चूना DA Image
22 नवंबर, 2019|3:24|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘खुशियों का खजाना’ लगाया लाखों का चूना

पटना की एक कम्पनी ने लकी ड्रॉ के नाम पर यहां के हजारों लोगों को लाखों का चूना लगा कर फरार हो गयी। कम्पनी की स्कीम थी कि 13 सप्ताह तक 70 रुपये की किश्त जमा करने पर ग्राहक इनाम का हकदार होगा। इनाम में टीवी, कूलर सहित बाइक और स्कूटी भी शामिल था। नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों से लकी ड्रॉ के नाम पर कम्पनी ने करीब 70 लाख रुपये वसूला और लूटकर चलती बनी।

‘इनाम की गारंटी और खुशियों की बौछार’ लेकर पटना से यहां आयी गोल्डेन मार्केटिंग कम्पनी ने हजारों लोगों को सुनहरे सपने दिखाकर कम्पनी के साथ जोड़ा। कम्पनी की योजना के तहत जो भी व्यक्ति सदस्य बनेगा, उसे 13 सप्ताह तक 70-70 रुपये प्रति सप्ताह के हिसाब से किश्त जमा करनी होगी।

पूरी किश्त जमा करने वाले ग्राहकों को लकी ड्रॉ के माध्यम से उपहार दिया जायेगा। कम्पनी की पॉलिसी का जमकर प्रचार-प्रसार किया गया। इसकी जानकारी प्रशासनिक महकमे के लोगों को भी थी पर सभी अपने कान में तेल डालकर सोये रहे।

कम्पनी के सदस्यों ने पूरे जिले में कुछ ही सप्ताह के भीतर अपना नेटवर्क फैला दिया। इनाम लेने की होड़ में हजारों लोगों ने 70-70 रुपये दांव पर लगा दिया। पटना से आये कम्पनी के चेयरमैन और मेम्बरों ने यह भी दावा किया कि जिन कार्ड धारी ग्राहकों को 13 सप्ताह के दरम्यान कोई पुरस्कार नहीं मिला है, उनको एक-एक हीरोहोण्डा स्पलेण्डर प्लस दिया जायेगा। यही नहीं लकी ड्रॉ के माध्यम से बाइक विजेता को सरकारी टैक्स वैट सहित देय होगा।

कम्पनी का नाटक 13 सप्ताह तक इस जिले में चला और भोले-भाले लोगों से करीब 70 लाख रुपये ऐंठ कर कम्पनी के चेयरमैन और मेम्बर शनिवार को गायब हो गये। करीब आधा दजर्न लोगों को ही कैमरा, किसी को कूलर या डीनर सेट ही लकी ड्रॉ के माध्यम से मिला। बाइक का कहीं कोई अता-पता ही नहीं चला। कम्पनी ने नगर क्षेत्र के कुछ युवकों को मेम्बर बनाया था। अब यहां के लोग मेम्बरों के सिर का बाल लोग नोच रहे हैं।

जो लोग कम्पनी के पॉलिसी का शिकार हुए वह काफी परेशान हैं। कम्पनी के ही एक मेम्बर ने बताया कि शनिवार को शहर कोतवाली से सम्बद्ध दो सिपाही स्टीमरघाट स्थित कम्पनी के ऑफिस पर आये थे और कम्पनी के रजिस्ट्रेशन नम्बर आदि की जांच-पड़ताल कर लौट गये। सूत्रों की मानें तो कम्पनी भी फर्जी थी और उसका रजिस्ट्रेशन भी। इनाम देने के नाम पर इस कम्पनी ने यहां के हजारों लोगों को लाखों का चूना लगा दिया।

इस सम्बद्ध में पूछे जाने पर पुलिस अधिकारियों ने कहा कि कम्पनी के खिलाफ कोई भी व्यक्ति शिकायत करने के लिए हमारे पास नहीं आया। इसलिए यह मामला उनके संज्ञान में ही नहीं पहुंचा। जिन लोगों का पैसा डूबा है, वह अपना सिर पीट रहे हैं। जिन लोगों को छोटा-मोटा इनाम मिला, उन्हें तो कुछ राहत भी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘खुशियों का खजाना’ लगाया लाखों का चूना