जीत की राह पर लौटने उतरेंगे चैलेंजर्स - जीत की राह पर लौटने उतरेंगे चैलेंजर्स DA Image
10 दिसंबर, 2019|4:54|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीत की राह पर लौटने उतरेंगे चैलेंजर्स

जीत की राह पर लौटने उतरेंगे चैलेंजर्स

कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों सात विकेट की शिकस्त के बाद रायल चैलेंजर्स बेंगलूर सोमवार को इंडियन प्रीमियर लीग के अपने दूसरे मैच में घरेलू दर्शकों के सामने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ जीत की राह पर लौटने उतरेगी।

चैलेंजर्स के कप्तान अनिल कुंबले स्वीकार कर चुके हैं कि ईडन गार्डन्स में उनका प्रदर्शन खेल के सभी विभागों में खराब था। टीम की बल्लेबाजी स्थिरता नहीं थी और टीम 135 रन ही बना सकी। गेंदबाजी आक्रमण की भी मनोज तिवारी और ब्रैड हाज ने धज्जिया उड़ा दी थी। क्षेत्ररक्षण भी पहले मैच में टीम के लिए सिरदर्द साबित हुआ जबकि विकेट के पीछे श्रीवत्स गोस्वामी का प्रदर्शन निराशाजनक था।

आरसीबी की ओर से केवल जैक्स कैलिस ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए जो पूरे 20 ओवर क्रीज पर रहे। गोस्वामी, विराट कोहली और मनीष पांडे की युवा तिकड़ी के अलावा इंग्लैंड के इओइन मोर्गन को जिम्मेदारी संभालनी होगी। अगर टीम एक बार फिर अच्छा प्रदर्शन करने में विफल रही है तो किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ उसे मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

कुंबले ने कैलिस की गेंदबाजी पर भरोसा किया था लेकिन यह दक्षिण अफ्रीका केकेआर के खिलाफ नाकाम रहा। कल जब प्रबंधन मैच के लिए अंतिम एकादश का चयन करने बैठेगा तो यह बात उनके दिमाग में रहेगी। हालांकि टीम में आलराउंडरों की कमी के कारण आरसीबी को इसी संयोजन के साथ उतरना पड़ सकता है। आरसीबी के पास आर विनय कुमार के रूप में गेंदबाजी आलराउंडर है जो 2009-10 घरेलू सत्र में 62 विकेट के साथ सबसे सफल रहे थे।

दूसरी तरफ, किंग्स इलेवन पंजाब की बल्लेबाजी भी दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ विफल रही थी और टीम को हार का सामना करना पड़ा था। युवराज सिंह की फिटनेस टीम के लिए परेशानी का सबब हो सकती है। ऐसा लगता है कि वह पूरी तरह से चोट से नहीं उबरे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीत की राह पर लौटने उतरेंगे चैलेंजर्स