बसपा की रैली में चली गईं सभी रूटों की बसें - बसपा की रैली में चली गईं सभी रूटों की बसें DA Image
10 दिसंबर, 2019|4:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बसपा की रैली में चली गईं सभी रूटों की बसें

रोडवेज, प्राइवेट और स्कूली बसें रविवार को बसपा की रैली में भेज दी गईं। इससे अधिसंख्य रूटों पर बसों का संचालन ठप हो गया। यात्रियों को भारी परेशानी हुई। पकड़े जाने के डर से कुछ आपरेटरों ने अपनी बसों को आज बाहर ही नहीं निकाला।

लखनऊ में सोमवार को होने वाली बसपा की रैली के लिए परिवहन विभाग के अफसर आज पूरे दिन बसों की धर-पकड़ में व्यस्त रहे। आनन-फानन में इन बसों का परमिट बनवाया गया और लखनऊ रवाना कर दिया गया। वाराणसी के परिवहन विभाग ने 240 बसों को बसपा की रैली में भेज दिया।

जो बसें बचीं उन्हें दूसरे जिलों के परिवहन अधिकारियों ने अपने यहां खींच लिया। इससे वाराणसी-गाजीपुर, वाराणसी-मऊ आदि रूटों की बसें खाली हो गईं। जिन बसों को रैली में भेजा गया है उन्हें परमिट के लिए 400 रुपये, स्टाफ खर्च के लिए 400 और मोबिल के लिए 200 रुपये दिए गए हैं। बड़ी बसों के लिए 192 लीटर डीजल और छोटी बसों के लएि 134 लीटर डीजल उपलब्ध कराया गया है।

परिवहन अधिकारियों ने स्कूली बसों को भी लखनऊ भेज दिया है। इससे सोमवार को कई बसें स्कूली बच्चों को नहीं ढो सकेंगी। दूसरी ओर रोडवेज ने वाराणसी क्षेत्र से 299 बसों को रैली में भेजा है। कैंट से 62, काशी डिपो से 51, चंदौली से 6, गाजीपुर से 50, जौनपुर से 50, सोनभद्र से 25 और विंध्यनगर से 20 बसें बसपा की रैली के लिए बुक हैं।

यात्रियों की असुविधा के बारे में परिवहन और रोडवेज के अधिकारी जुबान खोलने के लिए तैयार नहीं हैं। नाम न छापने की शर्त पर अधिकारियों ने बताया कि अगर रैली के लिए बसों का इंतजाम नहीं किया तो उनकी नौकरी जा सकती है। इसीलिए अधिसंख्य बसों को रैली में लगा दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बसपा की रैली में चली गईं सभी रूटों की बसें