कोटा में कोटा, बर्दाश्त नहीं : डॉ. जोशी - कोटा में कोटा, बर्दाश्त नहीं : डॉ. जोशी DA Image
20 नबम्बर, 2019|11:49|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोटा में कोटा, बर्दाश्त नहीं : डॉ. जोशी

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं सांसद डॉ मुरली मनोहर जोशी ने कहा है कि महिला आरक्षण बिल में जातिपरक दृष्टिकोण उचित नहीं है। रविवार को सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में डॉ जोशी ने कहा कि बिल से वही डर सकता है जिसने किन्हीं कारणों से अपने परिवार की महिलाओं को आगे आने का मौका नहीं दिया। भारतीय संस्कृति में हमेशा महिलाओं का सम्मान रहा है। राजनीतिक, आर्थिक ही नहीं सामरिक दृष्टि से फैसले लेने में महिलाएं सक्षम रही हैं।

भाजपा नेता ने कहा कि कोटा में सब कोटा किसी कीमत पर स्वीकार नहीं है। भाजपा में कुछ अंतरविरोध जरूर है लेकिन सभी पार्टी ह्विप के साथ हैं। विनय कटियार जैसे लोगों ने पार्टी मंच पर विरोध जताया है लेकिन वह भी ह्विप के साथ हैं। भाजपा इस बात की विरोधी है कि बिल पास कराने के लिए मार्शल की मदद ली जाए। संसद में बटन दबाकर माहौल बनता है. डंडा चलाकर नहीं।

डॉ जोशी ने केन्द्र के बजट को पूंजीपतियों का बजट बताया। कहा कि सरकार किसानों को 70 हजार करोड़ देकर तो ढोल पीट रही है लेकिन उद्यमियों का घाटा पूरा करने के लिए पांच लाख करोड़ दे दिया, इसकी चर्चा नहीं होती। महंगाई का असल कारण यही है।

हास्यास्पद लगता है कि महंगाई की ठीकरा किसानों के सिर फोड़ा जा रहा है। सरकार से जुड़े एक प्रतिनधि ने तो यहां तक टिप्पणी कर दी कि गरीब ज्यादा खाने लगे हैं, इससे महंगाई बढ़ी है। बोले, केन्द्र की नीतियों के चलते किसान दिवालिया हुए तो उनकी भरपायी कौन करेगा। खाद्य प्रसंस्करण में लोनिंग व्यवस्था देकर किसानों के साथ धोखा ही हुआ है। बताया कि 21 अप्रैल को पांच लाख किसान दिल्ली में प्रदर्शन कर महंगाई पर विरोध जताएंगे। देश भर के पांच करोड़ लोग हस्ताक्षर कर विरोध करेंगे।

भाजपा नेता ने कहा कि सरकार तीन खतरनाक कानून लाने वाली है, संसद में इसका विरोध किया जाएगा। डॉ जोशी ने कहा कि राज्य सरकार अगर जगह दे दे तो केन्द्र की ओर से तीन नए विद्युत सब स्टेशन लगाए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोटा में कोटा, बर्दाश्त नहीं : डॉ. जोशी