यूपी प्रशासन ने मेनका को बरेली जाने से रोका - यूपी प्रशासन ने मेनका को बरेली जाने से रोका DA Image
17 नबम्बर, 2019|7:26|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी प्रशासन ने मेनका को बरेली जाने से रोका

यूपी प्रशासन ने मेनका को बरेली जाने से रोका

भाजपा सांसद मेनका गांधी को प्रशासन ने रविवार को उपद्रवग्रस्त बरेली जाते वक्त गाजियाबाद बुलंदशहर सीमा पर रोक लिया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बरेली जा रही भाजपा सांसद को सुबह गाजियाबाद-बुलंदशहर सीमा पर रोक दिया गया।

मेनका वहां की घटनाओं की जांच के लिए बरेली जा रही थीं, लेकिन राज्य सरकार ने उन्हें वहां जाने की इजाजत नहीं दी। बाद में मेनका को उनके अपने संसदीय क्षेत्र आंवला जाने की इजाजत दे दी गई। मेनका ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश सरकार के इशारे पर पुलिस ने जांच दल को अनावश्यक परेशान किया।

उन्होंने बताया कि बरेली जा रही सांसद को जिला प्रशासन द्वारा रोके जाने पर जब लोकसभा अध्यक्ष को इस संबंध में अवगत कराया गया तो उनके निर्देशों पर प्रशासन ने उन्हें उनके संसदीय क्षेत्र आंवला जाने की अनुमति दे दी।


मेनका गांधी ने आरोप लगाया कि जिन लोगों ने उपद्रव को हवा देने में मदद की उन्हें सरकार रिहा कर रही है और जो अधिकारी स्थिति पर नियंत्रण के लिए जी जान से लगे रहे उन्हें बरेली से हटा दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की नीति से एक वर्ग आहत है क्योंकि प्रशासन ने कर्फ्यू तोड़ने वालों और प्रदर्शन करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की है।

उधर गोरखपुर के जिला प्रशासन ने भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ को भी तड़के गोरखपुर से बरेली जाते समय बाराबंकी जिले में गोरखपुर-बरेली एक्सप्रेस ट्रेन से उतार लिया। बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक नवनीत कुमार राणा ने बताया कि बरेली जाते वक्त सांसद आदित्यनाथ को बाराबंकी में रोक लिया गया। उन्हें डाकबंगला ले जाया गया। बाद में उन्हें गोरखपुर वापस भेज दिया गया।

इसी प्रकार भाजपा सांसद राजेन्द्र अग्रवाल को भी मेरठ से बरेली आते वक्त रामपुर जिले में रोक लिया गया और उन्हें बरेली जाने की इजाजत नहीं दी गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी प्रशासन ने मेनका को बरेली जाने से रोका