डेढ़ दर्जन परीक्षार्थियों को रोल नम्बर ही नहीं दिया - डेढ़ दजर्न परीक्षार्थियों को रोल नम्बर ही नहीं दिया DA Image
13 नबम्बर, 2019|1:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डेढ़ दजर्न परीक्षार्थियों को रोल नम्बर ही नहीं दिया

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में पहली पाली की परीक्षा में सुबह अफरातफरी रही। परीक्षा विभाग की चूक से डेढ़ दजर्न परीक्षार्थियों को अनुक्रमांक ही आवंटित नहीं हो सका। इस चूक को गंभीरता से लिया गया है और तीन कर्मचारियों को नोटिस दी गई है।


परीक्षार्थियों का अनुक्रमांक छूट जाने से उन्हें कक्ष का आवंटन ही नहीं हो सका। जब ये परीक्षार्थी विज्ञान संकाय स्थित परीक्षा केंद्र पर पहुंचे तो अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई। आनन-फानन में उन्हें बैठाने की व्यवस्था की गई। ये सभी बीए (थर्डइयर) में समाजशास्त्र के प्राइवेट परीक्षार्थी थे। मामले की जांच हुई तो पता चला कि गलती से उक्त परीक्षार्थियों के फार्म द्वितीय वर्ष के परीक्षार्थियों के साथ मिला दिया गया। जिससे इन परीक्षार्थियों को अनुक्रमांक नहीं आवंटित हो सका। परीक्षा नियंत्रक प्रो.नंदलाल ने बताया कि इस चूक को गंभीरता से लिया गया है। सम्बन्धित पटलों के तीन लिपिकों को नोटिस दी गई है। जवाब मिलने के बाद आगे की कार्रवाई होगी।


महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की परीक्षा में कक्ष निरीक्षकों की कमी पड़ गई है। इसलिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने उड़ाका दल भंग कर दिया है। उड़ाका दल के सदस्य अब कक्ष निरीक्षण करेंगे। यह फैसला शनिवार को लिया गया। उड़ाका दल का कार्य अब प्राक्टोरियल बोर्ड के सदस्य करेंगे। इस बार शिक्षकों को 40 पाली की ड्यूटी अनिवार्य करने के बाद भी कई शिक्षक परीक्षा डय़ूटी से कतरा रहे हैं। वे इस फिराक में हैं कि किसी न किसी तरह डय़ूटी से मुक्ति मिले। जिससे यह समस्या सामने आ रही है। अभी करीब दो महीने की परीक्षाएं बाकी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डेढ़ दर्जन परीक्षार्थियों को रोल नम्बर ही नहीं दिया