जर्मनी को हराकर आस्ट्रेलिया बना विश्व हाकी चैम्पियन - जर्मनी को हराकर आस्ट्रेलिया बना विश्व हाकी चैम्पियन DA Image
11 दिसंबर, 2019|2:51|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जर्मनी को हराकर आस्ट्रेलिया बना विश्व हाकी चैम्पियन

जर्मनी को हराकर आस्ट्रेलिया बना विश्व हाकी चैम्पियन

आखिरकार आस्ट्रेलिया ने पिछले दो विश्व कप के फाइनल में हारने का मिथक तोड़ते हुए शनिवार को यहां जर्मनी का लगातार तीसरा खिताब जीतने का सपना चूर-चूर करके 2-1 की जीत के साथ बारहवें हाकी विश्व कप पर कब्जा किया।
     
विश्व कप 2002 और 2006 में जर्मनी के ही हाथों परास्त हुई आस्ट्रेलियाई टीम की आक्रामकता जर्मन डिफेंस पर भारी पड़ी और आखिरी मोड़ पर ओलंपिक चैम्पियन जर्मनी का अपराजेय अभियान थम गया। दुनिया की शीर्ष दो टीमों की इस टक्कर में खचाखच भरे मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में जमा दर्शकों को बेहतरीन हाकी का नमूना देखने को मिला।

आस्ट्रेलियाई टीम ने दोनों हाफ में गोल दागे जबकि जर्मनी दूसरे हाफ में ही गोल कर सका। आस्ट्रेलिया के लिये एडवर्ड ओकेंडेन (छठा मिनट) और ल्यूक डोरनर (59वां) ने गोल किये। डोरनर टूर्नामेंट में सर्वाधिक आठ गोल करने वाले खिलाड़ी भी बन गए। जर्मनी के लिये एकमात्र गोल 48वें मिनट में मौरिटज फर्स्टे ने किया।
     
भारतीय दर्शकों ने पूरे मैच में मैक्समिलान म्यूलर की अगुवाई वाली जर्मन टीम की जबर्दस्त हौसलाअफजाई की। जर्मन टीम ने आखिर में मैदान का चक्कर लगाते हुए एक बैनर पर भारत और जर्मनी के ध्वज के साथ दर्शकों का शुक्रिया अदा भी किया।
     
इस जीत के साथ ही आस्ट्रेलियाई कोच रिक चार्ल्सवर्थ बतौर खिलाड़ी और कोच विश्व कप जीतने वाले पहले शख्स बन गए। वह 1986 में विश्व कप जीतने वाली आस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य थे और उन्होंने टूर्नामेंट में सर्वाधिक सात गोल किये थे।

फाइनल मैच की शुरूआत ही काफी तेजतर्रार रही। आस्ट्रेलिया के लिये छठे मिनट में ओकेंडेन ने गोल करके बढत बना ली। पूरे टूर्नामेंट में अपने डिफेंस के दम पर अपराजेय रही जर्मन टीम इस शुरूआती वार से सकते में आ गई। उसने आस्ट्रेलियाई गोल पर हमले बोलने शुरू किये और 20वें मिनट में पेनल्टी कार्नर बनाया जिस पर मार्टिन हेनर की ड्रैगफ्लिक निशाने पर नहीं लगी । आस्ट्रेलिया को 29वें मिनट में मिले पहले पेनल्टी कार्नर पर जर्मन गोलकीपर टिम जेसुलेट ने बखूबी डोरनर का शर्तिया गोल बचाया ।
     
दूसरे हाफ में आस्ट्रेलिया को 38वें मिनट में मिला पेनल्टी कार्नर जर्मन गोलकीपर और डिफेंडर मैक्सम्यूलर की कुशलता से गोल में नहीं बदल सका। इस बीच जर्मनी को मिले पेनल्टी कार्नर को फर्स्टे ने गोल में बदलकर स्कोर बराबर कर दिया। आस्ट्रेलिया को 53वें मिनट में गोल करने का सुनहरा मौका मिला लेकिन ग्रांट शूबर्ट का शाट बाहर निकल गया।

आस्ट्रेलिया के लिये दूसरा गोल 59वें मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर पर डोरनर ने किया। जर्मनी को 57वें और 62वें मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर बेकार गए। आस्ट्रेलिया को 67वें मिनट में एक और गोल दागने का मौका मिला जब ग्लेन टर्नर जर्मन डिफेंस में सेंध लगाते हुए अकेले ही गेंद लेकर गोल के सामने बढे लेकिन उनका पहला शाट बचाने के बाद जर्मन गोलकीपर ने रिबाउंड पर भी गोल नहीं होने दिया।

शनिवार को यहां समाप्त हुए 12वें हॉकी विश्व कप में हिस्सा ले रहे दलों की अंतिम स्थिति इस प्रकार है।
1. आस्ट्रेलिया 2. जर्मनी 3. हॉलैंड 4. इंग्लैंड 5. स्पेन 6. दक्षिण कोरिया 7. अर्जेटीना 8. भारत 9. न्यूजीलैंड 1०. दक्षिण अफ्रीका 11. कनाडा 12. पाकिस्तान।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जर्मनी को हराकर आस्ट्रेलिया बना विश्व हाकी चैम्पियन