नए मानक: दूर की कौड़ी - नए मानक: दूर की कौड़ी DA Image
13 नबम्बर, 2019|1:25|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए मानक: दूर की कौड़ी

मंत्रलय ने भले ही नए मानकों को तय कर दिया हो लेकिन इन्हें हासिल करना बहुत दूर की कौड़ी है। रेस्पीरेबल सस्पेंडेड पर्टिकुलेट मैटर (आरएसपीएम) के राष्ट्रीय मानक 100 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर से कहीं ज्यादा प्रदूषण है।

एसपीएम के लिए राष्ट्रीय मानक 200 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर है। जबकि हालात यह है कि रिहाइशी इलाकों में एसपीएम तीन सौ के पास है। जबकि आरएसपीएम 150 के आसपास है। पर्यावरण विशेषज्ञों का कहना है कि इतने कड़े मानक हासिल करने के लिए शहरों में आमूलचूल परिवर्तन किए जाने की आवश्यकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नए मानक: दूर की कौड़ी