आईपीएल-3 में फिर से चमकने को बेताब हैं यूसुफ पठान - आईपीएल-3 में फिर से चमकने को बेताब हैं यूसुफ पठान DA Image
22 नवंबर, 2019|4:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपीएल-3 में फिर से चमकने को बेताब हैं यूसुफ पठान

आईपीएल-3 में फिर से चमकने को बेताब हैं यूसुफ पठान

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की राजस्थान रायल्स के अहम सदस्य यूसुफ पठान ने कहा कि उन्हें आईपीएल तीन में खुद के आक्रामक प्रदर्शन के अलावा शेन वार्न की अगुवाई वाली टीम के फिर से चैम्पियन बनने की उम्मीद है।

दो साल पहले आईपीएल के शुरुआती चरण से राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने वाले यूसुफ इस सत्र को लेकर भी खासे उत्साहित हैं और इसकी एक वजह घरेलू टूर्नामेंटों में शानदार फार्म भी है। उन्होंने देवधर ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में जोरदार प्रदर्शन दिखाया है।

यूसुफ ने बातचीत में कहा कि आईपीएल के पहले सत्र के बाद मैंने काफी क्रिकेट खेली है और मेरे खेलने के स्तर में काफी सुधार हुआ है और तीसरे चरण में मुझे इससे काफी मदद मिलेगी। आईपीएल तीन में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। मैंने आईपीएल के पहले चरण में शानदार प्रदर्शन के बूते राष्ट्रीय टीम में जगह हासिल की थी और अब भी मुझे वैसे ही धमाकेदार प्रदर्शन की आस है।

उन्होंने नौ मार्च को देवधर ट्राफी के फाइनल मैच में 39 गेंद में 80 रन की पारी खेली थी। इससे पहले दलीप ट्रॉफी फाइनल में भी उन्होंने 190 गेंद में नाबाद 200 रन बनाए, जिससे उनकी टीम ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में लक्ष्य हासिल करने का नया रिकार्ड बनाया था। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज की टीम में जगह दी गयी, लेकिन इसमें वह सफल नहीं रहे। इस बाबत यूसुफ ने कहा कि मैं टीम की जरूरत के हिसाब से आक्रामक शाट खेलने की कोशिश करता हूं, कई बार यह कारगर होता है तो कई बार नहीं।

यूसुफ का अब भी राष्ट्रीय टीम में स्थान पक्का नहीं है, इसके पीछे उनके प्रदर्शन की उतार चढ़ाव रहा है। इस बात का उन्हें अहसास भी है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी उन्हें टीम में शामिल किया गया, लेकिन उनका प्रदर्शन इतना शानदार नहीं रहा।

यूसुफ ने 2008 में राजस्थान रायल्स की ओर से 179 के स्ट्राइक रेट से चार अर्धशतक से 435 रन बनाये, जिससे उन्हें बांग्लादेश में त्रिकोणीय सीरीज और पाकिस्तान में एशिया कप की टीम में शामिल किया गया। उन्होंने आईपीएल के पहले सत्र में डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ 21 गेंद में सबसे तेज अर्धशतक जड़ा था और फाइनल में अपनी टीम को खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभायी थी।

यूसुफ अंतिम क्षणों में ताबड़तोड़ शाट लगाते हैं, जिसकी टीम को टवेंटी20 प्रारूप में काफी जरूरत होती है, इससे वह कुछ चुनिंदा अंतरराष्ट्रीय बल्लेबाजों की श्रेणी में शामिल है, जो क्रीज पर कम समय बिताने के बाद गगनचुंबी छक्के जड़ते हैं। लेकिन वह आक्रामक पारी को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पाये हैं।

हालांकि आईपीएल में खुद की सफलता के लिए वह कप्तान शेन वार्न को भी काफी श्रेय देते हैं। इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा कि शेन वार्न ही मुझे अच्छा करने के लिए कहते थे और उनकी वजह से मेरे अंदर अच्छा करने का आत्मविश्वास आया और आईपीएल के शुरुआती चरण में बेहतरीन प्रदर्शन कर पाया। जब भी कहीं मेरी गेंदबाजी में थोड़ी गलती होती तो वह मुझे बताते थे जिससे मुझे काफी मदद मिली।

लेकिन अब आईपीएल तीन में उनका लक्ष्य बेहतरीन प्रदर्शन के बूते राष्ट्रीय टीम में जगह पक्की करना है। यूसुफ ने कहा कि मैं अच्छी फार्म में हूं और उम्मीद करता हूं कि आईपीएल तीन का प्रदर्शन मुझे राष्ट्रीय टीम में जगह पक्की करने में मदद करेगा।

आईपीएल तीन में हालांकि राजस्थान रायल्स को प्रबल दावेदार नहीं माना जा रहा, लेकिन यूसुफ को भरोसा है कि उनकी टीम खिताब जीत सकती है। वडोदरा के इस आल राउंडर ने कहा कि हमें प्रबल दावेदारों में नहीं गिना जा रहा लेकिन वार्न की कप्तानी में हमारी टीम फिर से कमाल दिखा सकती है और हम चैम्पियन भी बन सकते हैं।

उन्होंने अपने आक्रामक प्रदर्शन के बारे में कहा कि मैं सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करता हूं और पांच से 10 ओवर खेलने को मिलते हैं। मैं ऊपर खेलना चाहता हूं, जिससे काफी समय तक बल्लेबाजी कर सकूं, लेकिन मैं टीम का हिस्सा हूं। मैं नंबर सात पर भी बड़े शाट लगाता हूं। कभी यह कारगर रहता है, कभी नहीं। अगर टीम मेरे योगदान से जीत दर्ज कर ले तो अच्छा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईपीएल-3 में फिर से चमकने को बेताब हैं यूसुफ पठान